latest whatsapp news

कोरोना और लॉकडाउन में घर बैठे लोग सोशल मीडिया का ज्यादा इस्तेमाल करने लगे हैं। मैसेजिंग ऐप WhatsApp लंबे वक्त से लोगों की पसंद बना हुआ है।

वाट्सएप पहले केवल डीपी लगाने और चैट करने की सुविधा थी। फिर इसमें स्टेटस अपडेट करने का ऑप्शन आया। तमाम फॉरवर्डेड मैसेज की गति धीमी करने के लिए नियम आए।

वॉट्सऐप को लेकर नया फरमान जारी किया गया है। वॉट्सऐप ने फॉरवर्ड किए गए मैसेज को लेकर नए लिमिट का ऐलान किया है। कंपनी ने कोरोना वायरस को लेकर तेजी से फैल रहीं गलत जानकारियों को ध्यान में रख कर ये फैसला लिया है।

इस पर वॉट्सऐप का यह भी कहना है कि वॉट्सऐप सपोर्ट बंद होने का असर सिर्फ उन लोगों पर होगा, जिनके पास 6 साल से ज़्यादा पुराना स्मार्टफोन है। ऐसे में उन मोबाइल फोन ग्राहकों के फोन में पूरी तरह से वॉट्सऐप बंद ​हो जाएगा जो कि 6 साल से पहले के हैं।

लिंक पर क्लिक करने पर असली दिखने वाली फेक वेबसाइट खुल जाती है। लिंक खोलने पर फोन हैक होने का खतरा बहुत बढ़ जाता है। इसमें कई तरह के विज्ञापन दिखाई देते हैं, जिन्हें सब्सक्राइब करने के लिए कहा जाता है, और ऐसा करने के लिए यूज़र्स से उनकी पर्सनल डिटेल मांगी जाती है।

कई बार ऐसा होता है कि लोग आपको व्हाट्सएप से ब्लॉक कर देते हैं जिसका आपको पता भी नहीं लगता है। हालांकि, एक ऐसा भी तरीका है जिससे आप यह जान सकते हैं कि आपको किस-किसने ब्लॉक किया है। तो आइए बताते हैं कैसे

व्हाट्सएप आजकल दुनिया का लगभग हर शख्स इस्तेमाल करता है। इसी व्हाट्सएप से भारत के साथ दुनिया के करीब 1400 पत्रकारों और कार्यकर्ताओं का डाटा लीक हुआ तथा जासूसी भी हुई। इस घटना की जानकारी व्हाट्सएप ने खुद अमेरिकी फेडरल कोर्ट में दी।

कंज्यूमर सॉफ्टवेयर बाजार तेजी से बढ़ा है और अब ऐसे-ऐसे सॉफ्टवेयर और एप उपलब्ध हैं जिनको किसी डिवाइस पर इंस्टाल करने के लिए किसी विशेषज्ञता की जरूरत नहीं होती। एमस्पाई, फ्लेक्सीस्पाई, वेबवाचर, स्पाईटूमोबाइल वगैरह ऐसे कुछ उदाहरण हैं।

वाट्सएप ऐसा दावा किया जा रहा है कि इन दो फीचर्स के जुड़ने के बाद से यूजर किसी भी वेब पेज को वॉट्सऐप के अंदर ही ओपन कर सकेंगे और उन्हें ऐप से बाहर नहीं जाना पड़ेगा। इतना ही नहीं यूजर्स को नुकसान पहुंचाने वाले वेब पेज के बारे में भी अलर्ट भी मिलता रहेगा।

लखनऊ: टेक्नोलॉजी के इस हाईटेक समय में एक तरफ जहां गैजेट्स लोगों की हेल्प करते हैं, तो वहीं इसके कई सारे बुरे इफेक्ट्स भी हैं। आजकल छोटे से लेकर हर बड़ा इंसान सोशल मीडिया पर एक्टिव रहता है। खासकर फेसबुक और व्हाट्सएप जैसी एप्लीकेशन हर किसी के फ़ोन में मौजूद रहती हैं। जरा सी कोई …