lifestyle news

यूं तो बासमती चावल के ऐसे कई ब्रांड है, जहां आपको बेहतर ऑफर के साथ 100 फीसदी शुद्ध बासमती चावल मिलते है। लेकिन Basmati Rice on Amazon पर 20% तक छूट के साथ आपको शुद्ध, साफ और बेहद खुशबूदार बासमती चावल मिलेंगे। इसकी खेती ग्रेट हिमालयन रेंज किया जाता है,

जैसे की जंक ज्वैलरी का मैटेरियल काफी सख्त होता हैं, जिसके वजह से गले में रैशेज हो जाते हैं और वहां की स्किन लाल हो जाती है। ऐसी समस्या से बचने के लिए ज्वैलरी पहननेसे पहले कैलेमाइन लोशन, पेट्रोलियम जैली और मिनरल तेल का इस्तेमाल जरूर करें।

न्यूयॉर्क की एक महिला को मसूड़ों में दर्द होने के बाद दांत झड़ने की शिकायत पाई गई। महिला ने बताया कि वह मुंह में विंटरग्रीन ब्रेश मिंट ली। मुंह में लेते ही उसे अपने दांतों में थोड़ा झनझनाहट महसूस हुआ। थोड़ी बाद उसे पता चला कि उसके दांत हिल रहे है। महिला को लगा यह नॉर्मल है, शायह ब्रेथ मिंट खाने के कारण हो रहा है, लेकिन जब वह अगली सुबह उठी, तो उसका अचानक ही झड़ गया।

हर महिला चाहती है कि उसका चेहरा भी ग्लो करें , लेकिन इस तनाव और भाग दौड़ भरी लाइफ में ऐसा कर पाना थोडा मुश्किल हो जाता है जिस कारण वक़्त से पहले चेहरा मुरझाने लगता है। सही तरह से डिटॉक्सीफाई न होने के कारण त्वचा डल हो जाती है।

कोरोना वायरस से बचाव के लिए आपको सबसे अधिक प्रभावी फ्रूट्स का सेवन करना चाहिए। प्रभावी फ्रूट्स जिनमें संतरा, मौसमी, पपीता, अमरूद और कीवी आता आता है। इन फलों में विटमिन-सी की प्रचुर मात्रा के साथ ही फाइबर भी संतुलित मात्रा में पाया जाता है। आपके शरीर के अपशिष्ट पदार्थों को तेजी से बाहर निकालने में मदद करता है।

जो लोग अपनी पर्सनल हाइजीन का ध्यान नहीं देते है तो ऐसे लोग सुपर स्प्रेडर की तरह कोरोना का वायरस स्वस्थ लोगों तक पहुंचाते है।

आपको अगर खुले बाल पसंद है तो ऐसे में वेडिंग लुक में, आप अपने बालों में बांधने वाला हेयरस्टाइल बनाएं जो आपको एक अलग लुक देगा। इसके लिए आपको फिशटेल साइड ब्रैड बनना सही होगा। इसे बनाने में अधिक समय नहीं लगता है बहुत आसानी से बनने वाला हेयरस्टाइल। इसमें पूरे बालों को ढीला रखते हुए गूंथा जाता है।

आंखों की इस बीमारी में कुछ लोग को देखने में धुंधला सा नजर आता है। इस बीमारी में आंखों में दर्द होना, आंखें लाल होना, तेज सिर दर्द होना जैसी समस्या दिखने लगती है। इसके साथ आंखों के अंदर गांठ बनना, आइरिस में बदलाव दिखने शुरू हो जाते हैं।

आजकल युवाओं में सेक्सटिंग का चलन बढ़ रहा है। एक स्टडी में पाया गया है कि स्कूल और कॉलेज जाने वाले लड़के-लड़कियां सेक्सटिंग की लत लग रही हैं

ज्यादातक केसर को खाने का स्वाद बढ़ाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। कहीं कहीं  इसकी चाय भी पी जाती है। केसर क्रोकस सैटाइवस नामक फूल से निकाला जाता है।