loan

लाओस ने चीन से अरबों डॉलर का कर्ज लिया हुआ है। अब चीनी कर्ज न चुका पाने के कारण लाओस को अपना पावर ग्रिड चीन की सरकारी कंपनी को देना पड़ा है।

कर्ज या लोन की ईएमआई(EMI) नहीं अदा करने की अवधि को लेकर आज सुप्रीम कोर्ट सुनवाई करेगा। इस पर याचिकाकर्ताओं की तरफ से मांग है कि लोन मोरेटोरियम के दौरान उन्हें ईएमआई ना चुकाने की जो छूट दी गई थी उस पर ब्याज ना वसूला जाए।

बैंक ने सोमवार को लोन के लिए रेपो से जुड़ी ब्याज दर यानी RLLR 0.15 फीसदी बढ़ाकर 6.80 प्रतिशत कर दी है। ये नई दरें आज यानी एक सितंबर से लागू हो जाएंगी।

देश के तीन बैंकों ने कुछ बड़ फैसले लिए हैं। इन फैसलों का करोड़ों ग्राहकों पर असर पड़ेगा। इन बैकों में निजी क्षेत्र के आईसीआईसीआई, कोटक महिंद्रा और सरकारी में बैंक ऑफ बड़ौदा शामिल हैं।

बैंक ऑफ बड़ौदा ने अपने ग्राहकों के लिए नए नियम लागू किए हैं। बैंक ने अपने नए ग्राहकों के लिए लोन पर रिस्‍क प्रीमियम में बढ़ोतरी कर दी है। साफ तौर से समझाए तो अब बैंक ऑफ बड़ौदा से कर्ज यानी लोन लेना महंगा पड़ेगा।

किसानों के लिए बहुत जरूरी खबर है, जिन किसानों ने खेती-किसानी करने के लिए लोन लिया है, वे किसान इस महीने की 31 तारीख को याद कर लें। अगर भूल गए तो लगभग दुगना ब्याज देना पड़ेगा।

देश के किसानों को अलर्ट किया गया है कि उन्हें 20 दिन के अंदर KCC पर लिया पैसा बैंक को वापस देना होगा। अगर वो बीस दिनों के अंदर पैसे वापस नहीं करते हैं तो उन्हें काफी महंगा पड़ सकता है।

जिलाधिकारी ने जानकारी देते हुये बताया कि यह योजना पूर्ण रूप से आवास एवं शहरी कार्य मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा वित्त पोषित केन्द्रीय क्षेत्र की योजना है

कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में सोमवार को केंद्रीय कैबिनेट की बैठक हुई। जिसमें कई अहम फैसले लिए गए।

आर्थिक संकट की मार झेल रहा पाकिस्तान बर्बादी की कगार पर पहुंच गया है। प्रधानमंत्री इमरान खान देश की अर्थव्यवस्था अभी कर्ज के सहारे बचा रहे हैं। अब फिर पाकिस्तान कर्ज लेने जा रहा है।