Lockdown Impact

त्तीसगढ़ के जगदलपुर जिले में गंगानगर वार्ड निवासी 58 वर्ष की महिला की लंबी बिमारी के बाद आज मौत हो गयी। लॉकडाउन होने के कारण पूरा परिवार महिला के अंतिम संस्कार के लिए शामिल नहीं हो सका।

देश में सबसे अधिक संपत्ति वाले तिरुवनंतपुरम के पद्मनाभस्वामी मंदिर को लॉकडाउन की अवधि के दौरान करीब छह करोड़ रुपए का नुकसान हो चुका है। मंदिर को औसतन हर महीने करीब तीन करोड़ रुपए की आय होती है।

दिल्ली से ये स्टूडेंट्स 21 मार्च को जिले में स्थित गढ़मुक्तेश्वर गंगा नहाने आए थे। उसके बाद जनता कर्फ्यू लग गया और फिर लॉकडाउन। ऐसे में सीमाएं सील हो गयी, ट्रेन बस का आवागन ठप्प हो गया।

कोरोनावायरस से लड़ने के लिए जारी लॉकडाउन के चलते आय के जरिया खत्म होने और भुखमरी की कगार पर आये लोगों को राज्य सरकारें मुफ्त राशन और आर्थिक मदद देकर बड़ी राहत दे रहीं हैं लेकिन भारत का एक राज्य ऐसा है जो यह राहत डबल करके दे रहा है।

लॉकडाउन के कारण एक हिंदू व्यक्ति के निधन में उसके रिश्तेदार शामिल न हो सके। ऐसे में न केवल मुस्लिम समुदाय के लोग इस शोक में शामिल हुए, बल्कि मृतक की अर्थी को आगे बढ़कर कंधा भी दिया।इतना ही नहीं, हिन्दू रीति रिवाज से उसका अंतिम संस्कार भी किया।

रायबरेली: लॉकडाउन घोषित होने के बाद लगातार पुलिस-प्रशासन का ऐसा रूप देखने को मिल रहा है, जिससे उनकी काफी प्रशंसा हो रही है। लॉकडाउन से परेशान लोगों की मदद में लगे पुलिसकर्मी एक के बाद एक मानवता की बेहतरीन तस्वीर समाज के सामने प्रदर्शित कर रहे हैं। इस दौरान उत्तर प्रदेश पुलिस भी काफी ऐक्टिव …