loksabha election 2019

लोकसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी गठबंधन को हार का सामना करना पड़ा, जिसके बाद अखिलेश की सुरक्षा में कटौती हुई है। हार के बाद समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी गठबंधन भी टूट गया।

मुजफ्फरनगर की आधिकारिक वेबसाइट्स eciresults.nic.in या ceouttarpradesh.nic.in के मुताबिक बीजेपी के संजीव बालियान को अब तक 21704 वोट मिले हैं। वहीं अजित सिंह को 11303 वोट मिले हैं।

लोकसभा चुनाव जो छठवें चरण का 12 मई को वोटिंग पडना है। इसी को लेकर सपा पार्टी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने सपा- बसपा गठबंधन प्रत्याशी आफताब आलम के लिए सिद्धार्थनगर के इटावा विधानसभा में एक विशाल रैली किया।

गुरूवार को दिन का तापमान चढ़ने के साथ सुल्तानपुर में सियासी पारा भी गर्म रहा। यहां बीजेपी के प्रत्याशी वरुण गांधी और गुजरात के पाटीदार नेता हार्दिक पटेल दोनों ही अपने -अपने पार्टी के प्रत्याशियों के लिए वोट मांगने के लिए पहुंचे थे।

देश में चौथे चरण के मतदान के अंत तक करीब 70 फीसदी सीटों पर मतदान हो चुका है। लेकिन भाजपा का असली युद्ध अब शुरू होने जा रहा है। इस फेज के साथ ही 24 राज्यों (केंद्र शासित प्रदेश समेत)में आम चुनाव खत्म हो गए हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज शहर के csn डिग्री कॉलेज मैदान में हरदोई और मिश्रिख लोकसभा क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशियों के समर्थन में जनसभा को संबोधित करेंगे। पीएम के आगमन के म

भाजपा में दूसरे दलों से लोगों के शामिल होने का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। बुधवार को भी कई नेताओं ने पार्टी की सदस्यता ली जिनमें प्रमुख रूप से कांग्रेस की पूर्व महापौर की प्रत्याशी प्रेमा अवस्थी शामिल हैं।

देश के 12 राज्यों में 95 लोकसभा सीटों के लिए मतदान जारी है। अभी मतदान केंद्रों पर लोग अपने मताधिकार का प्रयोग करने के लिए लाइन में लगे हैं।

भारतीय जनता पार्टी के सांसद कंवर सिंह तंवर ने आरोप लगाया है कि बुर्का पहनकर फर्जी वोटिंग की जा रही है, जिसको लेकर हमने डीएम से शिकायत की है। वहीं बसपा के उम्मीदवार दानिश अली ने उल्टा भाजपा पर आरोप लगा दिया है कि बीजेपी खुद इस तरह फर्जी वोट डलवा रही है।

लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण के लिए मतदान जारी है। 12 राज्यों की 95 सीटों पर हो रहे वोटिंग में कई दिग्गजों के भाग्य का फैसला होगा। 11 राज्य और एक केंद्रशासित प्रदेश पुड्डुचेरी में हो रहे इस मतदान में 1600 से ज्यादा प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं।