#LokSabhaElection2019 results

दिल्ली से इस आमचुनाव में भी सिर्फ एक महिला उम्मीदवार ही संसद पहुंच सकी। राज्य में भाजपा नेता मीनाक्षी लेखी, पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित और आप की आतिशी सहित कुल 16 महिला उम्मीदवार चुनाव मैदान में थीं।

लखनऊ में लोकसभा चुनाव हारने में बाद सपा की लोकसभा उम्मीदवार पूनम सिन्हा ने शुक्रवार को प्रदेश कार्यालय पहुंचकर राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव से मुलाकात की। पूनम सिन्हा के साथ प्रदेश प्रवक्ता जूही सिंह भी मौजूद रही।

भाजपा के जिला कार्यालय पर पत्रकारों से मुखातिब हुए सांसदों ने कहाकि जनता ने उन लोगों के ऊपर जो भरोसा जताया और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के हांथों भारी बहुमत दिया और एक बार पुनः सरकार बनाने के लिए सहयोग दिया उसके लिए वह आभारी हैं। 

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता राजीव बक्शी ने शुक्रवार को पीटीआई भाषा को बताया कि बब्बर ने राहुल गांधी को अपना इस्तीफा भेज दिया है ।बक्शी ने बताया कि बब्बर ने लोकसभा चुनाव में पार्टी के खराब प्रदर्शन की जिम्मेदारी लेते हुए इस्तीफा दिया है।

सुबह आठ बजे से कल मतगणना शुरू हुई। उसके एक घंटे के बाद रूझान आने शुरू हो गए। वह रूझान बीजेपी के पक्ष मे थे। दोपहर तक ये साफ हो गया था कि एक बार फिर से प्रचंड बहुमत के साथ नरेन्द्र मोदी पीएम बनेंगे। नरेन्द्र मोदी एक बार फिर से पीएम बनेंगे।

राजेंद्र चौधरी ने बताया कि  राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के निर्देश पर टीवी चैनलों पर नामित किये गये पार्टी प्रवक्ताओं का मनोनयन तत्काल प्रभाव से समाप्त कर दिया गया है ।'

राजस्थान में 2014 की तुलना में मत प्रतिशत में 3.84 प्रतिशत बढ़ोतरी के बावजूद कांग्रेस राज्य में लोकसभा की एक भी सीट नहीं जीत पाई वहीं उसने दिसंबर में 100 विधानसभा सीटों के साथ सरकार बनाई थी।

यूपी के उपमुख्यमंत्री डा. दिनेश शर्मा ने लोकसभा चुनाव में भाजपा की जीत को प्रधानमंत्री मोदी की सुनामी बताया है। उन्होंने कहा कि जनता ने पीएम मोदी के नेतृत्व में भरोसा जताते हुए न्यू इंडिया के सपने को साकार

मुजफ्फरनगर की आधिकारिक वेबसाइट्स eciresults.nic.in या ceouttarpradesh.nic.in के मुताबिक बीजेपी के संजीव बालियान को अब तक 21704 वोट मिले हैं। वहीं अजित सिंह को 11303 वोट मिले हैं।

लोकसभा चुनाव 2019 का आज निर्णायक दिन है। लोकसभा चुनाव 2019 के सात चरणों में हुए चुनाव के वोटों की आज गिनती हो रही है और शाम तक यह तस्वीर साफ हो जाएगी कि केन्द्र में सरकार बनने की यूपी की क्या भूमिका है।