lucknow zoo

चिम्पैंजी ने बाड़े में पड़ा एक बड़ा पत्थर उठा लिया और दर्शकों की तरफ फेंक दिया। गनीमत यह हुई कि बाड़े के बाहर जाली लगे होने के कारण वो पत्थर किसी दर्शक को नहीं लगा, लेकिन इसके बाद चिम्पैंजी ने जोर- जोर से सीना ठोकना शुरू कर दिया।

आपके सामने जो तस्वीर है उसमे कोई लकड़ी का टुकड़ा नहीं बल्कि दुनिया का सबसे खतरनाक प्राणी है। क्या आपको वो दिख रहा है ? नहीं न? चलिए हम आपको फोटो थोड़ा ज़ूम करके दिखाते हैं।

प्राणि उद्यान की डालीबाग गेट स्थित पार्किंग भी पूरी तरह भरी हुई थी। प्राणि उद्यान की बाल रेल के प्लेटफार्म पर बड़ी संख्या में दर्शक बाल रेल की प्रतीक्षा करते नजर आये। प्राणि उद्यान के नरही स्थित मुख्य द्वार पर बनाये गये फव्वारे के साथ दर्शकों ने खूब फोटो खींची।

लखनऊ चिड़ियाघर में 38 वर्षीय हुक्कू बंदर की मौत हो गयी जो दर्शकों का मुख्य आकर्षक था ।

लखनऊ चिड़िया घर के निदेशक आरके सिंह ने बताया कि विनिमय प्रोग्राम के तहत यह आदान-प्रदान किया गया है। यहां सफेद बाघ 'विजय' को सोमवार को डॉक्टर अशोक कश्यप और डॉक्टर ब्रजेन्द्र मणि यादव के नेतृत्व में नेशनल जूलाॅजिकल पार्क, दिल्ली भेजा गया।

ईद के बाद चिड़ियाघर लगे मेले में उमड़ी लोगों की भीड़, देखें शानदार तस्वीरें

पिछले 23 सालों से लखनऊ जू आने वाले हर पर्यटक के लिए कौतूहल का विषय रहे बुजुर्ग गैंडे लोहित ने शनिवार सुबह अंतिम सांस ली। लोहित अपनी पूरी जिंदगी जू में तन्‍हा ही रहा, उसे कभी जीवनसाथी नसीब नहीं हुआ। अकेलेपन से घिरे लोहित ने आखिरकार लखनऊ जू समेत पूरी दुनिया को अलविदा कह दिया। जू के निदेशक आर