Madhya Pradesh

मध्यप्रदेश आतंकवाद निरोधी दस्ते (एटीएस) ने भाजपा की सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर को कथित तौर पर संदिग्ध लिफाफे भेजने के मामले में महाराष्ट्र के नांदेड जिले से एक चिकित्सक को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने शनिवार को यह जानकारी दी।

मध्य प्रदेश पहुंचे कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के सम्मान में गुरूवार को कमलनाथ सरकार के मंत्री गोविन्द राजपूत ने डिनर पार्टी का आयोजन किया।

CAA पर भाजपा डोर टू डोर अभियान चला कर नागरिकता कानून के समर्थन में लोगों को जागरूक कर रही है, लेकिन पार्टी के भीतर ही नेता एक मत नहीं दिख रहे हैं।

मध्य प्रदेश में मजदूर लगातार करोड़पति बन रहे हैं और उनकी जिंदगियों में बदलाव आ रहा है। पन्ना में रातोंरात हीरे से मजदूरों की किस्मत बदल जाती है। प्रदेश के हीरों के शहर पन्ना से ऐसी कई खबरें सामने आई हैं। दो और मजदूरों की किस्मत चमक गई है।

एक विंग कमांडर ने खुद को गृहमंत्री अमितशाह बता कर मध्यप्रदेश के राज्यपाल से बात की। इसके पीछ की वजह यह थी कि विंग कमांडर अपने दोस्त को आयुर्विज्ञान विश्वविद्यालय का कुलपति बनवाना चाहता था। इसलिए उसने  कानून को ताक में रखकर गृह मंत्री अमित शाह बनकर राज्यपाल को सिफारिश के लिए फोन कर दिया।

मध्य प्रदेश के शाजापुर में तिरंगा यात्रा के दौरान हिंसा की खबर है। यहां के कुरैशी मोहल्ला में जमकर पत्थरबाजी हुई है। हिंसा के बाद पुलिस अधिकारी मौके पर हैं।

मध्य प्रदेश के सागर में बीती रात ट्रेनिंग के दौरान एक विमान हादसे का शिकार हो गया। शुक्रवार को हुए इस हादसे में दो पायलट की मौत हो गई है। हादसे में विमान पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया।

भोपाल। मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार का एक साल पूरा हो चुका है। वर्ष 2020 में कमलनाथ सरकार की पहली चुनावी परीक्षा चंबल क्षेत्र की की जौरा विधानसभा सीट पर होगी जहां मौजूदा कांग्रेस विधायक बनवारीलाल शर्मा के निधन के कारण उपचुनाव होना है। जौरा सीट रिक्त होने के बाद कांग्रेस विधानसभा में वापस 114 …

एमपी के कमलनाथ सरकार ने गरीब सवर्णों को न्यू ईयर का तोहफा दिया है। सरकार गरीब सवर्णों को 10 फीसदी आरक्षण देने के लिए नियमों में बदलाव करने जा रही है, यानी वह कड़े नियमों को बदलकर आसान करने जा रही है। मध्‍य प्रदेश में अब सवर्णों को सिर्फ 8 लाख रुपए की सालाना आय का प्रमाण देने भर से उन्हें 10 फीसदी आरक्षण  का लाभ मिल सकेगा।

मध्य प्रदेश के ग्वालियर के जीवाजी विश्वविद्यालय की कला परास्नातक परीक्षा के एक प्रश्नपत्र में ऐसा सवाल पूछा गया जिस पर बवाल मच गया है। प्रश्न पत्र में कुछ स्वतंत्रता सेनानियों के लिए कथित रूप से 'क्रांतिकारी आतंकवादी' जैसे शब्द का इस्तेमाल किया गया है।