maharashtra

मार्च से अभी तक देशभर में कोरोना महामारी का कहर बना हुआ है। ऐसे में सबसे ज्यादा आफत मुंबई और महाराष्ट्र में मची हुई है। महाराष्ट्र की बात करें तो यहां कोरोना के 1 लाख 80,000 से भी ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं।

तेजी से बढ़ते कोरोना वायरस के मद्देनजर महाराष्ट्र में एक बार फिर से लॉकडाउन का विस्तार किया गया है। प्रदेश में 31 जुलाई तक लॉकडाउन बढ़ाने का फैसला लिया गया है।

महाराष्ट्र के सतारा की एक हैरान कर देने वाली घटना सामने आई है। सतारा से आंगनबाड़ी में काम करने वाली एक वर्कर अचानक से गायब हो गई।

सैलून में सिर्फ हेयरकट कराने की इजाजत है। शेविंग कराने की इजाजत नहीं है। सरकार के आदेश के मुताबिक हेयरकट करने और करवाने वाले दोनों ही लोगों को मास्क पहनना जरूरी होगा।

योग गुरु स्वामी रामदेव की कोरोना वायरस के इलाज की दवा 'कोरोनिल' विवादों में घिर गयी है। राजस्थान सरकार के बाद अब महाराष्ट्र की उद्धव सरकार ने भी पतांजलि की 'कोरोनिल दवाई' को बैन कर दिया है।

खबर पुणे से है, जहां पर सोमवार को एक 36 वर्षीय महिला ने हॉस्पिटल की पांचवीं मंजिल से कूदकर कथित रूप से आत्महत्या कर ली। बताया जा रहा है कि इसी हॉस्पिटल में उसके बेटे का इलाज चल रहा है।

लद्दाख की गलवान घाटी में हुई हिंसक झड़प के बाद चीन को आर्थिक मोर्चे पर कई तगड़े झटके दिए गए हैं। अब इस बीच चीन को एक और करारा झटका लगा है।

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने शिवसेना के 54वें स्थापना दिवस पर जूम के माध्यम से पार्टी कार्यकर्ताओं ऑनलाइन के माध्यम से संबोधित किया। इस दौरान पार्टी प्रमुख ने गरजते हुए कहा कि शिवसेना खुद एक साइक्लोन है और हम किसी भी दूसरे साइक्लोन से नहीं डरते हैं।

देश में कोरोना वायरस का संक्रमण दिन प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है।  सबसे ज्यादा गुजरात महाराष्ट्र, और तमिलनाडू दिल्ली प्रभावित है। इससे रोकने के लिए राज्य सरकारें कटिबद्ध है। अपने अपने तरीके से काम कर रही है। इसमें केंद्र से भी राज्य सरकारों को मदद मिल रहा है।

महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे की नेतृत्व वाली महाविकास आघाड़ी सरकार में सबकुछ ठीक नहीं है। अब बीच सत्ताधारी शिवसेना ने गठबंधन में शामिल सरकार पर हमला बोला है। शिवसेना ने कांग्रेस की तुलना पुरानी खटिया से की है।