maharashtra

महाराष्ट्र में तीसरे चरण के चुनाव के तहत 14 संसदीय सीटों के लिए 393 उम्मीदवारों ने नामांकन पत्र दायर किए।23 अप्रैल को होने वाले चुनावों के लिए नामांकन पत्र दायर करने की अंतिम तिथि बृहस्पतिवार है।

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस ने सोमवार को कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि पार्टी 50 साल तक जनता को मूर्ख बनाती रही। उन्होंने दावा किया कि इस लोकसभा चुनाव में भी उसके नेता यही चीजें दोहरा रहे हैं।

एक आधिकारिक विज्ञप्ति में बताया गया कि इन चुनाव चिह्नों में दैनिक इस्तेमाल की वस्तुएं शामिल हैं। ये चिह्न ‘चुनाव चिह्न आदेश 1968’ के अनुसार लोकसभा और विधानसभा उम्मीदवारों को बांटे जाते हैं।

महाराष्ट्र में के ग्रामीण इलाकों के पोलिंग बूथों की संख्या शहरी इलाकों के पोलिंग बूथों की संख्या के मुकाबले करीब दोगुनी है। आपको बता दें, राज्य में 95,000 से ज्यादा पोलिंग बूथ हैं, जिनमें से 61,000 ग्रामीण क्षेत्रों में हैं और 34,000 शहरी क्षेत्र में हैं। 

पीएम नरेंद्र मोदी विदर्भ क्षेत्र में बीजेपी-शिवसेना गठबंधन उम्मीदवारों के लिए चुनाव प्रचार के तहत वर्धा में एक जनसभा को संबोधित कर रहे हैं। उन्होंने कहा, महाराष्ट्र में कांग्रेस और NCP का गठबंधन कुंभकर्ण की तरह है।

पुलिस के प्रवक्ता ने बताया कि एक गुप्त सूचना के आधार पर कार्रवाई करते हुए पुलिस ने मुंबई-अहमदाबाद राजमार्ग पर शुक्रवार की देर रात में एक टैम्पो को अच्छड़ जांच चौकी पर रोका। गुजरात से आ रहे इस टैम्पो से 41.83 लाख रुपये का गुटखा बरामद हुआ।

देशमुख ने सांगली जिले के मिराज शहर में बुधवार को भाजपा, शिवसेना और आरपीआई (ए) कार्यकर्ताओं की एक संयुक्त सभा को संबोधित करते हुए एक पार्टी कार्यकर्ता से कहा था कि अगर भाजपा सांसद संजयकाका पाटिल आसन्न लोकसभा चुनाव में दोबारा निर्वाचित होते हैं तो उन्हें पांच लाख रुपये या उससे अधिक देंगे।

महाराष्ट्र में मुंबई समेत 17 लोकसभा क्षेत्रों के निवासियों के पास शनिवार तक अपने आप को मतदाता के रूप में पंजीकृत कराने का आखिरी मौका है। यहां पर अगले महीने चौथे चरण में चुनाव होने हैं।

पिछले लोकसभा चुनाव में महाराष्ट्र में प्रचंड मोदी लहर चल रही थी। बीजेपी ने महाराष्ट्र में अपने गठन के बाद सबसे शानदार प्रदर्शन किया। फिलहाल आप जानिए पिछले चुनाव में महाराष्ट्र की लोकसभा सीटों पर किसे मिली थी जीत और किसे मिला हार का गम।

चुनाव अधिकारियों ने यह जानकारी दी। पहले चरण के मतदान में जिन प्रमुख प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला होगा उनमें केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी (नागपुर) और हंसराज अहीर (चंद्रपुर) शामिल हैं। बृहस्पतिवार को नामांकन वापस लेने का अंतिम दिन था।