Maharawal Ratan Singh

चित्तौड़ के राजा महारावल रतन सिंह ने राघव चेतन पंडित को अपने प्रदेश से देश निकाला दे दिया था। जिसके बाद राघव चेतन अपने इस अपमान का बदला लेना चाहता है जिसके वह दिल्ली के सुल्तान अलाउद्दीन खिलजी के पास मदद मांगने के लिए चला गया।