mary kom

भारतीय महिला स्टार मुक्केबाज एमसी मैरीकॉम को विश्व मुक्केबाजी चैम्पियनशिप में शनिवार को हार का मुंह देखना पड़ा। इस चैंपियनशिप के सेमीफाइनल मुकाबले में मैरीकॉम की उम्मीदों को तगड़ा झटका लगा है।

आज 48 किलो भारवर्ग की बॉक्सर मंजू भी अपना क्वार्टर फाइनल मुकाबला खेलेगी, जहां वर्ल्ड नंबर वन कोरिया की किम हेयांग मी उनके सामने होंगी। क्वार्टर फाइनल में जीत के साथ ही मंजू चैंपियनशिप में अपना पदक पक्का कर लेगी।

खेल मंत्रालय ने 9 एथलिट्स को पद्म सम्मान (पद्म विभूषण, पद्म भूषण, पद्म श्री ) देने की सिफारिश की है। इसमें सभी नाम देश के बेटियों के हैं जिन्होंने खेलों में भारत का नाम ऊंचा किया है।

पानीपत के बुआना लाखू में मैरी कॉम की कहानी दोहराई जा रही है। हम बात कर रहे हैं मैरी कॉम 2 नाम से फेमस हो रही रजनी कश्‍यप की। रजनी के पिता रेहड़ी लगाते हैं। जबकि रजनी अपनी मां के साथ मजदूरी करती है।

खेल के लिहाज से देखें तो साल 2018 अच्छा रहा। इसे भारतीय महिला खिलाड़ियों की खास उपलब्धियों के लिए हमेशा याद किया। विराट कोहली की टीम ने इस साल कई कीर्तिमान रचे। इसके बावजूद महिलाओं ने बाजी मार लिया।

नई दिल्ली : पांच बार की विश्व विजेता मैरी कॉम ने इसी साल अगस्त में होने वाले एश्यिाई खेलों से अपना नाम वापस ले लिया है। भारतीय मुक्केबाजी महासंघ (बीएफआई) ने शुक्रवार को एशियाई खेलों की टीम का ऐलान किया। मैरी के स्थान पर मणिपुर की सरजू बाला देवी एशियाई खेलों में 51 किलोग्राम भारवर्ग में …

भारत की दिग्गज महिला मुक्केबाज मैरी कॉम ने एशियाई मुक्केबाजी चैम्पियनशिप में बुधवार को स्वर्ण पदक पर कब्जा जमाया।

पांच बार की विश्व चैम्पियन भारत की एमसी मैरी कॉम ने मंगलवार को एशियाई मुक्केबाजी चैम्पियनशिप के 48 वर्ग स्पर्धा के फाइनल में प्रवेश कर लिया है

लंदन ओलम्पिक में कांस्य जीतने वाली विश्व विजेता एमसी मैरी कॅाम के अलावा तीन भारतीय महिला मुक्केबाजों ने शनिवार को एशियाई मुक्केबाजी चैम्पियनशिप

असम अगले महीने एआईबीए युवा विश्व मुक्केबाजी चैम्पियनशिप की मेजबानी करेगा। जिसमें देश की युवा मुक्केबाज खासकर स्थानीय खिलाड़ी अनुक्षिता बोरो और जॉय कुमारी