masks

मास्क और नियमों के उल्लंघन को लेकर झारखंड में बड़ा ऐलान किया गया है। कोरोना बचाव के नियमों का पूरी तरह से पालन न किये जाने और मास्क न पहनने पर 1 लाख रुपये का जुर्माना और साथ ही 2 साल की जेल की भी घोषणा की गई है।

नॉर्थ कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन जो हमेशा से अपने अजीबो-गरीब तरीकों की वजह मशहूर हैं। उनको भी अब कोरोना वायरस का खौफ सताने लगा है।

देश में कोरोना वायारस के बढ़ते मामलों के बीच मोदी सरकार ने मास्क और सैनिटाइजर को जरूरी सामान  में शामिल किया था। अब सरकार ने इसे बदलते हुए मास्क और सैनिटाइजर को आवश्यक वस्तु अधिनियम की लिस्ट से हटा दिया है।

कोरोना संकट के इस काल में पूरी दुनिया में मास्क पहनने पर जोर दिया जा रहा है। जानकारों का कहना है कि मास्क पहनने से कोरोना वायरस के खतरे को काफी हद तक टाला जा सकता है मगर...

अपर मुख्य सचिव अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि प्रथम चरण में विभिन्न प्रदेशों से 60 हजार से अधिक छात्र-छात्राओं एवं अन्य लोगों को रोडवेज बस के माध्यम से प्रदेश में लाया गया है।

जानकीपुरम विस्तार में स्थित दृष्टि सामाजिक संस्था के दिव्यांग बच्चे कोरोना वायरस के बढ़ते संकट को देखते हुए अपने हाथों से मास्क बना रहे हैं।

कोरोना वायरस के रोकथाम के लिए जिला पूर्ति अधिकारी अपने कर्मचारियों को सैनिटाइजर, मास्क वितरित किया। इस समय कोरोना वायरस जैसी भयंकर महामारी को देखते हुए आपूर्ति विभाग ने अपने कर्मचारियों को मास्क, सैनिटाइजर वितरित किया और कर्मचारियों को कोरोना से बचने का सलाह भी दिया।

भारत की सरकारी एजेंसी इन्वेस्ट इंडिया के दस्तावेज से खुलासा हुआ है कि भारत को कोरोना वायरस से लड़ने के लिए कम से कम 3.8 करोड़ मास्क की जरूरत है।रॉयटर्स की रिपोर्ट के मुताबिक, करोड़ों मास्क के साथ-साथ भारत को 6 करोड़ 20 लाख पर्सनल प्रोटेक्टिव इक्विपमेंट (PPE) की भी आवश्यकता है।

कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में सहयोग के लिए मोदी सरकार कोई कसर नहीं छोड़ रही है। अब केंद्र सरकार ने देश के सभी राज्यों को मास्क, टेस्टिंग किट सहित कई जरूरी चीजें और मेडिकल इक्विपमेंट भेजने की तैयारी कर ली है।