masks

कोरोना संकट के इस काल में पूरी दुनिया में मास्क पहनने पर जोर दिया जा रहा है। जानकारों का कहना है कि मास्क पहनने से कोरोना वायरस के खतरे को काफी हद तक टाला जा सकता है मगर...

अपर मुख्य सचिव अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि प्रथम चरण में विभिन्न प्रदेशों से 60 हजार से अधिक छात्र-छात्राओं एवं अन्य लोगों को रोडवेज बस के माध्यम से प्रदेश में लाया गया है।

जानकीपुरम विस्तार में स्थित दृष्टि सामाजिक संस्था के दिव्यांग बच्चे कोरोना वायरस के बढ़ते संकट को देखते हुए अपने हाथों से मास्क बना रहे हैं।

कोरोना वायरस के रोकथाम के लिए जिला पूर्ति अधिकारी अपने कर्मचारियों को सैनिटाइजर, मास्क वितरित किया। इस समय कोरोना वायरस जैसी भयंकर महामारी को देखते हुए आपूर्ति विभाग ने अपने कर्मचारियों को मास्क, सैनिटाइजर वितरित किया और कर्मचारियों को कोरोना से बचने का सलाह भी दिया।

भारत की सरकारी एजेंसी इन्वेस्ट इंडिया के दस्तावेज से खुलासा हुआ है कि भारत को कोरोना वायरस से लड़ने के लिए कम से कम 3.8 करोड़ मास्क की जरूरत है।रॉयटर्स की रिपोर्ट के मुताबिक, करोड़ों मास्क के साथ-साथ भारत को 6 करोड़ 20 लाख पर्सनल प्रोटेक्टिव इक्विपमेंट (PPE) की भी आवश्यकता है।

कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में सहयोग के लिए मोदी सरकार कोई कसर नहीं छोड़ रही है। अब केंद्र सरकार ने देश के सभी राज्यों को मास्क, टेस्टिंग किट सहित कई जरूरी चीजें और मेडिकल इक्विपमेंट भेजने की तैयारी कर ली है।

माध्यमिक शिक्षा परिषद प्रयागराज बोर्ड परीक्षा की कॉपियों के मूल्यांकन में लगाए गए डिप्टी हेड व सहायक परीक्षकों को कोरोना वायरस से बचाने के लिए मास्क, सैनिटाइजर व हैंडवाश की डिमांड की गई है। लेकिन स्वास्थ्य महकमे ने हाथ खड़े कर लिए हैं।

पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में भी प्रदूषण का कहर दिखने लगा है। वाराणसी में हवा का स्तर खतरनाक स्तर पर पहुंच चुका है।