mathura

मथुरा जिले में शुक्रवार को बड़ा हादसा हो गया। यहां यमुना एक्सप्रेसवे पर भीषण सड़क दुर्घटना (Road Accident) हो गयी, जिसमें 35 लोग घायल हो गये।

लखनऊ। शिवसेना प्रमुख उद्द्व ठाकरे महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री बनने के बाद पहली बार आयोध्या नगरी में रामलला के दर्शन को आ सकते हैं। सुत्रों की माने तो ये दौरा कुछ दिनों के भीतर हो सकती है जिसे लेकर राजनीतिक सरगर्मियां तेज हो गई है। वहीं उद्दव का ये दौरा भाजपा के लिए खतरे की घंटी …

भारत के राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविन्द ने आज वृन्दावन, मथुरा में रामकृष्ण मिशन सेवाश्रम चैरिटेबिल हाॅस्पिटल के ‘सारदा ब्लाॅक’ का उद्घाटन करते हुए कहा कि इस संस्था द्वारा गरीब जनता को बीमारियों से मुक्त करने के लिए समर्पण भाव से कार्य किया जाता है।

घाटमपुर में अनियंत्रित वैन खड़े कंटेनर में जा घुसी। जिससे कंटेनर चालक और एक वैन सवार बच्ची की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं इस दर्दनाक हादसे में चार लोग गंभीर रूप से घायल है।

इसके अलावा आज पीएम प्लास्टिक के खात्मे के लिए तो लोगों से अपील करेंगे। वह पशु आरोग्य मेले का शुभारंभ करके पशुओं में होने वाली विभिन्न बीमारियों के टीकाकरण कार्यक्रम की शुरूआत भी करेंगे।

प्लास्टिक के खात्मे के लिए तो लोगों से अपील करेंगे ही पशु आरोग्य मेले का शुभारंभ करके पशुओं में होने वाली विभिन्न बीमारियों के टीकाकरण कार्यक्रम की भी शुरूआत करेंगे।

यह सुविधा प्रदेश सरकार द्वारा निर्मित सेवा सदन में मिलेगी। स्वतन्त्रता संग्राम सेनानियों को भोजन, आवास एवं चिकित्सा की सुविधा उपलब्ध कराने हेतु स्वतन्त्रता संग्राम सेनानी सेवा सदन, की स्थापना लखनऊ एवं मथुरा में  की गयी है।

मथुरा के थाना सुरीर के प्रांगण में आत्मदाह करने वाले दंपत्ति में से पति जोगेंद्र जिंदगी की जंग हार चुका है। चार दिन बाद आज जोगेंद्र ने जीवन की अंतिम सांस ली। जोगेंद्र की अंतिम सांस लेने के साथ ही सात जन्मों के बंधन में बधे जोगेंद्र और चंद्रवती का साथ भी छूट गया।

मथुरा के थाना सुरीर परिसर में उस वक्त हड़कंप मच गया जब एक दंपती ने थाने में ही पेट्रोल डाल खुद को आग के हवाले कर लिया। आग लगने के साथ ही थाने में भगदड़ मच गई और बताया जा रहा है कि पीआरवी मौके से भाग खड़ी हुई वहीं थाने में मौजूद पुलिसकर्मी एक दूसरे का मुँह देखते रहे।

अर्द्धरात्रि ठाकुर बांकेबिहारी मंदिर, प्रेममंदिर, गौड़िया मठ मंदिर समेत कई मंदिरों में नंद घर आनंद भयौं जय कन्हैया लाल के उद्घोष गूंज उठे। इस मौके पर ठाकुर बांकेबिहारी की मंगला आरती की गई। यह आरती वर्ष में एक बार केवल जन्माष्टमी पर ही होती है।