mayawati

बसपा प्रमुख ने ट्वीट करते हुए कहा है कि कांग्रेस पार्टी ने पहले राजस्थान में बीएसपी विधायकों को तोड़ा और अब अंबेडकरवादी मूवमेन्ट को अघात पहुंचाने के लिए वरिष्ठ लोगों पर हमला करवा रही है।

बहुजन समाज पार्टी अध्यक्ष मायावती ने प्रदेश की कानून-व्यवस्था पर सवाल खड़ा करते हुए आरोप लगाया है कि राज्य में लगातार अपराध की घटनाएं बढ़ रही हैं, जिससे आम जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हो गया है।

रामपुर मनिहारन के पूर्व विधायक व बसपा के पूर्व जोनल कोआर्डिनेटर रविन्द्र कुमार मोल्हू, सहारनपुर के जिलाध्यक्ष ऋषिपाल गौतम, गंगोह विधानसभा के अध्यक्ष धर्मेन्द्र गौतम सहित बड़ी संख्या में कई अन्य बसपा पदाधिकारी व उनके समर्थक भाजपा में शामिल हुए।

मध्य प्रदेश के शिवपुरी जिले से दिल को झकझोर देने वाली खबर सामने आई है। यहां दो दलित बच्चों की पीट-पीटकर निर्मम हत्या कर दी गई। दरअसल एक पंचायत भवन के सामने दोनों बच्चे शौच कर रहे थे।

बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने लखनऊ के किंग जॉर्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय परिसर में वाल्मीकि मंदिर तोड़े जाने को लेकर योगी सरकार पर हमलावर होते हुए घटना की जांच कराने की मांग की है।

राजस्थान में 6 बसपा विधायक सोमवार को कांग्रेस में शामिल हो गए। अपने विधायकों के कांग्रेस में शामिल होने पर बसपा प्रमुख मायावती ने कांग्रेस पर जमकर हमला बोला है। मायावती ने कहा कि यह धोखा है। बसपा मूवमेंट के साथ ऐसा विश्वासघात दोबारा तब किया गया है ।

बीते करीब दो दशकों से इन 17 पिछड़ी जातियों को अनुसूचित जाति में शामिल करने का प्रयास चल रहा है। योगी सरकार से पहले सपा और बसपा की सरकारों में भी यह प्रयास किया जा चुका है लेकिन उस समय भी इस पर कोई कार्यवाही नहीं हुई थी।

राजस्थान में मायावती को बड़ा झटका लगा है। बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के सभी छह विधायक कांग्रेस में शामिल हो गए हैं। सोमवार को कांग्रेस में शामिल विधायक ने कहा कि उन्होंने ऐसा अपने क्षेत्र के विकास के लिए किया है। बता दें कि सभी 6 विधायक अभी तक बाहर से कांग्रेस को समर्थन दे रहे थे।

उत्तर प्रदेश में योगी सरकार ने मुख्यमंत्री और मंत्रियों के इनकम टैक्स भरने के मामले में 4 दशक पुरानी व्यवस्था को खत्म कर दिया है। सीएम योगी ने आदेश दिया है कि भविष्य में किसी भी कैबिनेट मंत्री या मुख्यमंत्री का इनकम टैक्स सरकारी खजाने से नहीं भरा जाएगा। मुख्यमंत्री या मंत्री अब खुद अपना आयकर रिटर्न भरेंगे।

उत्तर प्रदेश में प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्रियों, मौजूदा सीएम और मंत्रियों का इनकम टैक्स सरकारी खजाने से भरा जाता है। इसके लिए बकायादा कानून है। इसके मुताबिक यूपी सरकार अब 19 मुख्यमंत्रियों जिनमें से 18 पूर्व मुख्यमंत्री हैं, के टैक्स भरेगी।