monsoon session

राज्यसभा अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दी गई। सभापति वेंकैया नायडू ने बुधवार को इसकी घोषणा की। कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के कारण समय से पहले मॉनसून सत्र को खत्म किया गया है।

राज्यसभा में हंगामे के बाद 8 सांसदों के निलंबन पर कार्रवाई से विपक्ष भड़का हुआ है। कांग्रेस समेत पूरे विपक्ष ने मानसून सत्र के बहिष्कार का ऐलान किया है।

राज्यसभा में कल यानी रविवार को भारी हंगामे और शोर-शराबे के बीच कृषि सुधार से जुड़े दो विधेयकों को ध्वनिमत से मंजूरी मिल गई। कृषि बिल को लेकर संसद से सड़क तक अब भी संग्राम जारी है। इन सब के बीच विपक्षी पार्टियों ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मिलने का समय मांगा है।

संसद के मॉनसून सत्र का आज आठवां दिन है। राज्यसभा में कृषि विधेयक पास होने के बाद काफी हंगामा हुआ था। सभापति ने हंगामा करने वाले सांसदों को निलंबित कर दिया है।

राज्यसभा सांसद अशोक बाजपेई ने कोरोना काल में स्कूल और विश्वविद्यालयों में पढ़ने वाले छात्रों की फीस माफी का मुद्दा उठाया। बार एसोसिएशन ने इसपर आभार जताया।

टीएमसी सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने उपसभापति के सामने रूल बुक फाड़ दी।डेरेक ओ ब्रायन और तृणमूल कांग्रेस के बाकी सांसदों ने आसन के पास जाकर रूल बुक दिखाने की कोशिश की और उसको फाड़ा।

संसद में मॉनसून सत्र का आज छठा दिन हैं। आज राज्यसभा में मोदी सरकार प्रमुख सुधार विधेयकों को पेश कर सकती है। वित्त मंत्री सीतारमण ने संशोधन विधेयक पेश किया।

संसद में मानसून सत्र का आज चौथा दिन है। राज्यसभा की कार्यवाही शुरू हो गयी है। विपक्ष ने चीन और लद्दाख तनाव पर सरकार को घेरा है।

संसद का मानसून सत्र 14 सितंबर से शुरू होने वाला है। कोरोना महामारी को देखते हुए इस बार कई बदलाव देखने को मिलेंगे। स्पीकर ओम बिड़ला के मुताबिक, संसद का सत्र शुरू होने से पहले सेंट्रल हॉल के लिए सभी पास कैंसल कर दिए गए हैं।