mothers day special

सिपाहियों का कहना है कि मदर्स डे के दिन सभी लोग अपनी मां को विश करते है। और उनको कभी किसी तरह की तकलीफ न देने की बात करते है। लेकिन ऐसा होता नही है। अगर वाकई ऐसा होता तो आज किसी के मां बाप इस हालत मे फुटपाथ पर नही बैठे होते।

Mother's Day 2019: इस बार मदर्स डे 12 मई को है. यानी 12 मई के दिन को आप अपनी मां के लिए जितना यादगार बना सकते हैं, बनाएं. इसकी शुरुआत इन शानदार स्टेटस (Mother's Day Status) से करें.

यह यूनीसेफ द्वारा की गई एक पहल है। करीना   ने कहा, "इस मदर्स डे पर, मैं हर एक बच्चे को जीवित रखने का संकल्प लेना चाहती हूं।

लखनऊ: कहते हैं कि इस धरती पर जन्मी हर लड़की को उस ख़ास दिन का सबसे ज्यादा इंतजार होता है, जब उसके कानों में पहली बार ‘मां’ कहने की आवाज आती है। वह उस छुअन को महसूस करना चाहती है, जो उसका खुद हिस्सा होता है। वह जब दूसरे बच्चों को अपनी मांओं से अठखेलियां …

नई दिल्ली, (आईएएनएस): सर्च इंजन गूगल ने रविवार को प्यारे से कैक्टस के डूडल के जरिए उत्साह के साथ मातृ दिवस (मदर्स डे) मनाया। मातृ दिवस भारत और कई देशों में हर साल मई के दूसरे रविवार को मनाया जाता है। यह दिन एक मां के बिना शर्त प्यार, करुणा और बच्चों की परवरिश के …

लखनऊ: हां वो बोल नहीं सकते पर क्या उन्हें प्यार जताना नहीं आता? हां, वो हथियार नहीं चला सकते। पर जब बात उनके बच्चों पर आती है, तो अपनी जान पर खेलकर अपनी औलाद की रक्षा करते हैं। जी हां, हम बात कर रहे हैं उन बेजुबान जानवरों की, जिन्हें शायद नहीं पता है कि …

मुंबई: आज जहां पूरी दुनिया में लोग अपनी मां के प्रति अपनी फीलिंग्स और प्यार जताकर मदर्स डे मना रहे हैं, वहीं इस मामले में बॉलीवुड स्टार्स भी अपने-अपने तरीके से इसे सेलिब्रेट कर रहे हैं। कोई अपनी मां से जुड़ी याद शेयर कर रहा है, तो कोई उनके प्रति आभार व्यक्त कर रहा है। …

लखनऊ:  मां मुझे आज भी याद है, जब मैंने पहली बार अपनी आंखें खोली। उस वक्‍त मेरी आंखों के सामने चारों ओर अंधेरा देखकर मैं डर गई। पर तभी मुझे एक आवाज सुनाई दी। मां वो आपकी आवाज थी। आपकी आवाज सुनकर मां मेरा डर गायब हो गया। उस वक्‍त मुझे ऐसा लगा कि शायद …

बहराइच: द्वापर युग की तरह कलयुग में भी कई ऐसी यशोदा मां हैं जो दूसरे के नौनिहालों को ममता की छांव दे रही हैं। डॉ. बलमीत कौर भी उनमें से एक हैं, जिनके आंगन में छह दिव्यांग बच्चे अपना भविष्य संवार रहे हैं। डॉ. कौर इन बच्चों को पढ़ाई के साथ-साथ जीवन जीने की कला …

लखनऊ:  मां मुझे आज भी याद है, जब मैंने पहली बार अपनी आंखें खोली। उस वक्‍त मेरी आंखों के सामने चारों ओर अंधेरा देखकर मैं डर गई। पर तभी मुझे एक आवाज सुनाई दी। मां वो आपकी आवाज थी। आपकी आवाज सुनकर मां मेरा डर गायब हो गया। उस वक्‍त मुझे ऐसा लगा कि शायद …