MTNL

टेलीकॉम कंपनियों ने लॉकडाउन होने की वजह से कम आमदनी वाले यूजर्स के प्रीपेड अकाउंट में10 रुपये का टॉकटाइम दिया है। इसके अलावा 17 अप्रैल तक वैलिडिटी भी बढ़ा दी गई है।

जानकारी के मुताबिक, सरकार की कोशिश है MTNL और BSNL की संपत्ति को मौजूदा वित्तीय वर्ष में ज्यादा से ज्यादा बेच दी जाए। इसके लिए अगले हफ्ते इस पर आंतरिक मंत्रालय की अहम बैठक भी बुलाई गई है।

काफी समय से सैलरी संकट से जूझ रहे BSNL और MTNL कर्मचारियों के घर इस साल दिवाली पर खुशियां आना बहुत ही मुश्किल है।

पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट कर कहा, 'बीएसएनएल व एमटीएनएल किसकी टेलीफ़ोन कम्पनी हैं- देश के 130 करोड़ लोगों की। सरकारी बीएसएनएल और एमटीएनएल का किया बंटाधार, दोनों कंपनिया घाटे में डूबी, बीएसएनएल में 54,000 नौकरियाँ जाएँगी,एमटीएनएल बंद होने की कगार पर।"