mukhtar ansari

प्रदेश में योगी सरकार आने के बाद से लगातार माफियाओं के खिलाफ पुलिसिया कार्रवाई जारी है। इसके अलावा न्यायालय की तरफ से भी उनके व उनके परिवार के सदस्यों के खिलाफ कानूनी कार्रवाइयां चल रही हैं।

एलडीए वीसी के कोरोना के चलते होम क्वारेंटाईन होने के कारण अभी यह तय नहीं है कि मकान ढहाने की कार्रवाई आज होगी की नहीं, एलडीए अधिकारियों का कहना है कि मामला हाई प्रोफाइल है इसलिए इस पर एलडीए वीसी ही निर्णय लेंगे।

प्रदेश के माफियाओं के खिलाफ जारी अभियान के तहत अब पुलिस उनके गैंग से जुड़े अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई करने पर उतर आई है।

पुलिस ने मुख्तार अंसारी की पत्नी और साले पर गैगेस्टर एक्ट तामील होने के बाद अब उनके खिलाफ गैर जमानती वांरट जारी कर दिया गया है।

उत्तर प्रदेश में योगी सरकार आने के बाद माफियाओं और अपराधियों के हौसले पस्त होेते चले जा रहे हैं । ऐसा कोइ माफिया अथवा हिस्ट्रीशीटर नहीं है जिसके खिलाफ सरकार कार्रवाई न कर रही हो।

लखनऊ के पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडेय की ओर से इनामी राशि की घोषणा की गई है। यह कार्रवाई राजधानी लखनऊ के डालीबाग इलाके में सरकारी जमीन पर अवैध निर्माण करने के मामले में की गई है।

मुख़्तार अंसारी (Mukhtar Ansari) की अवैध सम्पत्तियों पर सूबे की योगी आदित्यनाथ की सरकार लगातार कार्रवाई कर रही है। इसको मद्देनज़र रोज़ाना मुख़्तार पर कई तरह की ख़बरें सामने आती हैं। मुख़्तार अंसारी के बारे में अगर बात करें तो वो डॉन होने के साथ ही साथ विधायक भी था। उसके ऊपर क़रीब 40 से …

गाजीपुर पुलिस प्रशासन अपराधियों व अवैध रुप से सरकारी जमीन पर कब्जा करने वालो के खिलाफ सख्त रुख अपना चुकी है। गाजीपुर पुलिस जहां अपराधियों को गिरफ्तार कर जेल में डाल रही है।

मऊ सदर से बीएसपी के बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के करीबियों पर योगी सरकार का फंदा लगातार कस रहा है। पिछले दो महीनों से चल रहे अभियान के तहत अब सरकार ने वाराणसी में मुख्तार का दाहिना हाथ माने जाने वाले मेराज के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की है।

‘शातिर’ में आज हम बात करेंगे उत्तर प्रदेश के उस कुख्यात अपराधी के बारे में, जिसके ऊपर 40 से ज़्यादा मुकदमें दर्ज हैं. जो सूबे की सियासत के लिए समय-समय पर मुद्दा बनता रहता है. जिसके ऊपर एक विधायक सहित सात लोगों को सरेआम मरवाने का आरोप है.