narendra modi

ट्रंप जम्मू-कश्मीर को लेकर एक बयान पहले भी चुके हैं। इस बयान में ट्रंप ने दोनों देशों को मध्यस्थता का ऑफर दिया था। यही नहीं, ट्रंप ने ये भी कहा था कि उनकी पीएम मोदी से बात हुई है और वह मध्यस्थता के लिए तैयार हैं। उनके इस बयान की काफी आलोचना हुई क्योंकि भारत की ओर से ऐसा कोई बयान नहीं दिया गया था।

पंजाबी गायक हंसराज हंस एक बार फिर सुर्खियाँ बटोरते हुए नज़र आ रहें हैं। इस बार उनका चर्चा में आने का कारण जे.एन.यू.(JNU) यानी जवाहर लाल नेहरु यूनिवर्सिटी है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने दो दिवसीय दौरे पर भूटान पहुंचे हैं। पीएम ने कहा कि 130 करोड़ भारतीयों के दिलों में भूटान एक विशेष स्थान रखता है। मेरे पिछले कार्यकाल के दौरान, प्रधानमंत्री के रूप में मेरी पहली यात्रा के लिए भूटान का चुनाव स्वाभाविक था। इस बार भी, अपने दूसरे कार्यकाल के शुरू में ही भूटान आकर मैं बहुत खुश हूं।

जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से ही पाकिस्तान बौखलाया हुआ है। इस बीच पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को एक डर शता रहा है कि भारत सरकार पीओके में भी जा सकती है। पाकिस्तान के स्वतंत्रता दिवस के मौके पर इमरान खान पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओते) की विधानसभा में पहुंचे।

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 खत्म करने के बाद से ही पाकिस्तान बौखलाया हुआ है। इस बीच विदेश मंत्रालय ने जम्मू-कश्मीर के मसले पर पाकिस्तान की बौखलाहटों का जवाब दिया है। विदेश मंत्रालय ने कहा कि पड़ोसी देश इसलिए परेशान है कि अब उसे आतंकवाद का प्रसार करने में मदद नहीं मिलेगी।

जम्मू-कश्मीर राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेशों (जम्मू-कश्मीर और लद्दाख) में बांटने और आर्टिकल 370 के प्रावधानों को हटाने संबंधी विधेयक संसद में बहुमत से पारित हो गया है। मोदी सरकार ने इस विधेयक को पहले राज्यसभा और बाद लोकसभा में पेश किया था।

जम्मू-कश्मीर राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेशों (जम्मू-कश्मीर और लद्दाख) में बांटने और आर्टिकल 370 के प्रावधानों को हटाने संबंधी विधेयक संसद में बहुमत से पारित हो गया है। मोदी सरकार ने इस विधेयक को पहले राज्यसभा और बाद लोकसभा में पेश किया था।

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की मौद्रिक नीति समिति (एमपीसी) की बैठक में आम जनता को बड़ी राहत दी गई है। इस बैठक के बाद 35 बेसिस प्‍वाइंट(रेपो रेट) की कटौती की घोषणा की गई है। इस कटौती के बाद रेपो रेट 5.40 फीसदी पर आ गया है। इससे पहले रेपो रेट की दर 5.75 फीसदी थी।

पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के निधन पर पूरे देश में शोक की लहर है। दिल का दौरा पड़ने आने के बाद मंगलवार देर रात उनका निधन हो गया। सुषमा स्वराज को श्रद्धांजिल देने पहुंचे बीजेपी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी भावुक हो गए और वह अपने आसुओं को नहीं रोक पाए।

पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का कल रात 6 अगस्त को निधन हो गया. सुषमा को दिल का दौरा पड़ने के बाद एम्स में भर्ती कराया गया. जहां उनका इलाज के दौरान निधन हो गया. सुषमा का 67 साल की उम्र में निधन हो गया.