narendra modi

केंद्र सरकार कर्ज में फंसी कंपनी यूनिटेक लिमिटेड को ओवरटेक करने को तैयार हो गई है। सरकार ने इस संबंध में सुप्रीम कोर्ट को जानकारी दी है।

केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने को लेकर बड़ा बयान दिया है । उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने का इसलिए इतना इंतजार करना पड़ा, क्योंकि परमात्मा को भी यही मंजूर था कि नरेंद्र मोदी जैसा कोई महापुरुष धरती पर उतरे और ये पुण्य कार्य उनके हाथों से हो।

दुनिया की बेहतरीन रक्षा प्रणालियों में शामिल एस-400 एयर डिफेंस मिसाइल सिस्टम के भारत को मिलने का रास्ता साफ हो गया है। इस बारे में रूस के डिप्टी अंबेसडर रोमन बाबुश्किन ने शुक्रवार को जानकारी दी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस बार 20 जनवरी को नई दिल्ली के ताल कटोरा स्टेडियम में परीक्षा पर चर्चा-2020 कार्यक्रम में छात्र-छात्रओं से बातचीत करेंगे। पूरे प्रदेश से चिह्न्ति किए गए 182 विद्यार्थियों में तीन प्रतिभागी बाराबंकी के भी हैं।

नागरिकता संशोधन कानून को लेकर पूरे देश में घमासान मचा है। इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नागरिकता को साबित करने वाले कागज (दस्तावेज) की मांग की गई है।

दिल्लीे चुनाव को लेकर भारतीय जनता पार्टी के केंद्रीय चुनाव समिति (सीईसी) की एक अहम बैठक भाजपा कार्यालय में शुरू हो गई है। इस बैठक में भाग लेने के लिए पीएम मोदी, केंद्रीय गृह मंत्री और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह पहुंच गए हैं।

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अपने आप को सार्वजनिक तौर पर जीनियस बताने वाले अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की इतिहास और भूगोल के बार में जानकारी नहीं है। उनको यह तक नहीं पता कि भारत की सीमा चीन से लगती है। यह खुलासा एक किताब में हुआ है।

अपने विवादित बयानों के लिए चर्चित कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मणिशंकर अय्यर एक बार फिर चर्चा में हैं। मणिशंकर अय्यर ने एक बार फिर पाकिस्तान में भारत के आंतरिक मामलों पर चर्चा करके विवाद को जन्म दे दिया है।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि दोनों देशों के बीच 2019 में अनेक महत्वपूर्ण फैसले किए गए और उनके नतीजे सामने आए। उन्होंने सुझाव दिया कि वर्ष 2020, जो भारत और रूसी संघ के बीच रणनीतिक साझेदारी की स्थापना का 20वां जयंती वर्ष है, उसे उन फैसलों के कार्यान्वयन का वर्ष होना चाहिए।

इस साल के आखिर तक शंघाई सहयोग संगठन (SCO) समिट होनी है। इस समिट की मेजबानी भारत करेगा। इसके लिए पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को भारत आने का न्योता भेजा जाएगा।