nasa

अमेरिका की अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने एक नए शोध के आधार पर चेताया है कि हमारे ग्रह के लगातार गर्म होने के कारण उष्णकटिबंधीय क्षेत्रों (ट्रॉपिकल एरिया) में बारिश में वृद्धि होगी।

अमेरिका की निजी अंतरिक्ष एजेंसी स्पेसएक्स (SpaceX) ने शनिवार को अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन (आईएसएस) तक वस्तुओं की आपूर्ति के लिए अंतरिक्ष यान लॉन्च किया।

वाशिंगटन: अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव के लिए अंतरिक्ष से पहला वोट डाला गया है। नासा ने कहा है कि बाहरी अंतरिक्ष में मौजूद उसके एकमात्र अंतरिक्षयात्री ने अंतरिक्षयान से अपना वोट दर्ज कराया है। शेन किम्ब्रो अतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन से मतदान करने की लंबे समय से चली आ रही परंपरा में शामिल होने वाले सबसे हालिया …

अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा के मैग्नेटोस्फेरिक मल्टीस्केल मिशन (एमएमएस) ने एक जीपीएस सिग्नल को सबसे ऊंचाई पर स्थापित कर गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया है। यह जीपीएस सिग्नल पृथ्वी की सतह से 70,000 किलोमीटर की ऊंचाई पर स्थापित किया गया है। यह मिशन पहले ही साल में साइंटिस्टों को पृथ्वी के मैग्नेटोस्फीयर की नई जानकारी जुटाने में मदद कर रहा है।

केप केनेवरलः गुरुवार को निजी रॉकेट लॉन्चिंग कंपनी ‘स्पेस-एक्स’ के फॉल्कन-9 रॉकेट लॉन्च साइट पर कई धमाके हुए। धमाके इतने तेज थे कि इनकी गूंज दूर तक सुनाई दी। धुआं आसमान पर छा गया। कंपनी के मुताबिक धमाका उस वक्त हुआ, जब टेस्ट के लिए एक रॉकेट को ले जाया जा रहा था। फिलहाल हादसे …

[nextpage title=”NEXT” ] हैदराबादः भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने अपने पीएसएलवी सी-34 रॉकेट के जरिए एक साथ 20 सैटेलाइट अंतरिक्ष में लॉन्च किया है। चेन्‍नई से 80 किमी दूर श्रीहरिकोटा से पहली बार एक साथ 20 सैटेलाइट को लॉन्‍च कर भारत ने इतिहास रच दिया हैै। इन सैटेलाइटों में धरती की निगरानी करने वाला …

केप कनावरल: अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन (आइएसएस) ने सोमवार को धरती के एक लाख चक्कर पूरे कर लिए। यह जानकारी रशियन मिशन कंट्रोल की ओर से दी गई। रूसी-अमेरिकी सहयोग का प्रतीक आईएसएस का कंट्रोल सेंटर मॉस्को में स्थित है। इस सेंटर ने एक बयान में कहा कि आईएसएस ने धरती के एक लाख चक्कर पूरे …

बीजिंगः 2011 में अपने पहले मिशन के असफल होने के एक दशक बाद चीन 2021 में मंगल ग्रह पर एक यान उतारने की योजना बना रहा है। अब तक भारत, रूस, अमेरिका और यूरोपीय संघ को मंगल मिशन में सफलता मिल चुकी है। चीन 2020 में मंगल पर उतारेगा यान –ऐसी संभावना है कि चीन …

लखनऊ: अमेरिका के कोलंबिया से छोड़ा गया नासा का स्पेस एसटीएस(सेटेलाइट ट्रांसपॉर्टेशन सिस्टम) शटल बहुत मनहूस था। भारत की कल्पना चावला भी उसमें सवार थीं। पहली बार साल 2000 में एसटीएस को अंतरिक्ष भेजना था, लेकिन मिशन में हुई देरी के कारण इसे स्थगित कर दिया गया। इस उड़ान में कल्पना का भी नाम शामिल …