national news

गणतंत्र दिवस के कार्यक्रम को लेकर करीब 20 दिनों से पुलिस लाइन में तैयारी जोरों पर चल रही हैं। हर थाने व चौकी के पुलिस कर्मी सुबह व शाम की परेड में शामिल रहे। इस बार परेड में भी कोरोना संक्रमण का असर दिख रहा है।

आज के फैसले में सुप्रीम कोर्ट ने नए कृषि कानूनों के बारे में कोई टिप्पणी नहीं की है। कानून सही हैं या गलत, उनकी मेरिट-डीमेरिट पर कुछ नहीं कहा गया है। कोर्ट ने कहा है कि किसानों की आपत्तियों को सुना जाये और कोई रास्ता निकाला जाए।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक करने वाले हैं। देश के सभी मुख्यमंत्रियों के साथ ये बैठक सोमवार को बुलाई गई है। ऐसे में मिली जानकारी के मुताबिक, पीएम मोदी की बैठक सोमवार को शाम 4 बजे आयोजित होगी।

कामयाबी हासिल करने वाला देश भारत अब नई तैयारियों में लगा हुआ है। भारतीय वायुसेना(Indian Airforce) के आने-जाने के लिए बेहतर सुविधा देने के लिए सरकार अगले कुछ माह में 56 विमान खरीदने का सौदा करने जा रही है।

क्रायोजेनिक इंजन के विकास में बहुत बाधाएं तो आई, लेकिन भारत के वैज्ञानिकों ने हर बाधा को पार करके नई सफलता हासिल की है। ऐसे में पहले जो क्रायोजेनिक इंजन (Cryogenic Engine) विदेशों से आता था। वो इंजन अब भारत(India) में ही निर्मित किया जाएगा।

फास्टैग (FASTag) की अनिवार्यता को अब डेढ़ महीने के लिए बढ़ा दिया है। जिसके चलते अब वाहनचालक 15 फरवरी 2021 तक अपनी गाड़ियों में फास्टैग लगवा सकते हैं।

आत्मनिर्भर भारत के जरिए सरकार ने स्वदेशी मिसाइल आकाश के निर्यात पर मुहर लगा दी है। आकाश मिसाइल से भारत को बहुत बड़ी उपलब्धि हासिल हुई है। आकाश मिसाइल 96 प्रतिशत स्वदेशी है।

23 दिनों से बैठे किसानों के आंदोलन से उठने वाले सवालों का जवाब शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मध्यप्रदेश के किसानों के साथ संवाद के दौरान दिया। ऐसे में मोदी ने कहा कि किसानों के कंधे पर रखकर बंदूक इसलिए चलाई जा रही है कि पिछले बीस-पच्चीस सालों से किसानों के हित में जिन कानूनों की मांग की जा रही थी।

दुश्मनों को मजा चखाने के लिए भारत ने कड़ी मशक्कत के बाद बड़ी कामयाबी हासिल की है। ऐसे में आज सबसे खतरनाक ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल का सफल परीक्षण किया गया है। ताजा जानकारी मिली है कि इस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल को INS रणविजय से लॉन्च किया गया है।

भारत ने कोरोना पर पूरी तरह से अपनी पकड़ बनाई हुई है। यहां कोरोना के खिलाफ जिस तरह से लड़ाई लड़ी जा रही है वो हर देश के लिए सबक बनकर खरा उतरा है।