natural disasters

कुछ दिनों से महामारी तूफान चक्रवात और भूकंप जैसी प्रकृतिक आपदाएं घट रही है। देश और दुनिया में आएं दिन भूकंप की खबर सुनने के मिल रही है।  लोग जानमाल की रक्षा की कोशिश में लगी रहती है। जब भी कोई आपदा आती हैं तो मन में विचार आता हैं कि किसी तरह इसके बारे में बता चल जाए और बचाव कर लिए जाए।

यूपी के शाहजहांपुर में तेज़ बारिश और हवाएं एक परिवार पर मौत का कहर बनकर टूटी। बारिश से कच्चा मकान गिरने से मलबे में दबकर बेटे की दर्दनाक मौत हो गई जबकि पिता गंभीर रूप से घायल हो गए। आसपास के रहने वाले लोगों की मदद से दोनो को बाहर निकाला गया। लेकिन तब तक बेटे दम तोड़ चुका था।

इंडोनेशिया में 7.3 मैग्निट्यूड का भूकंप आया. यह जानकारी संयुक्त राज्य भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण ने दी। समाचार एजेंसी के अनुसार, इंडोनेशिया की भूभौतिकी एजेंसी ने कहा क बंदा सागर में 7.3 तीव्रता के भूकंप से सुनामी की कोई संभावना नहीं है।

लखनऊः अंतर्राष्ट्रीय आपदा न्यूनीकरण दिवस (13 अक्टूबर) से पूर्व संयुक्त राष्ट्र ने पर्यावरण से जुड़ी एक चिंतित करने वाली रिपोर्ट पेश की है। इस रिपोर्ट में पर्यावरण और उससे होने वाले आर्थिक नुकसान का पिछले 20 वर्ष (1998-2017) का अध्ययन किया गया है। इस रिपोर्ट के अनुसार, पिछले 20 वर्षों में भारत को इन प्राकृतिक …

[nextpage title=”next” ] लखनऊ: 2001 में गुजरात के गुल्बर्ग सोसायटी में हुए नरसंहार केस के फैसले का हमें इंतजार है। उसकी तस्वीरें आज भी दिल दहला देती हैं, लेकिन अगर इतिहास पर नजर डालें तो कई बार ऐसे खौफनाक मंजर सामने आए हैं, जिन्हें याद करते ही उसकी तस्वीरें आंखों के सामने घूमने लगती हैं। उन घटनाओं …

महोबाः बुंदेलखंड में कई सालों से पनप रहा सूखा अब विकराल रूप धारण करता जा रहा है। सभी जिलों में जल स्तर लगातर नीचे गिरता जा रहा है। महिलाएं कई किलोमीटर से पानी लाने के लिए मजबूर है तो वहीं ताल,तलैया सूख जाने से जानवर भी प्यासे मर रहे हैं। जिले के लगभग 33 गांवों में …