nawaz-sharif

लंदन में इलाज करा रहे पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को इमरान खान सरकार ने 'भगोड़ा' घोषित कर दिया है। नवाज की जमानत अवधि नहीं बढ़ाने का फैसला पंजाब सरकार ने मंगलवार को लिया।

पाकिस्तान के एक टीवी शो में इमरान खान के मंत्री ने विपक्षी पार्टियों को सेना का जूता दिखाकर उनका मजाक बनाया था। हालांकि मंत्री की यह हरकत टीवी शो और एंकर को भारी पड़ी है।

पीएम इमरान ने मियांवली में जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, 'जब मैंने शरीफ को एयर ऐम्बुलेंस पर चढ़ते देखा तो मैंने उनकी मेडिकल रिपोर्ट को याद किया। जिसमें लिखा गया था कि उन्हें 15 तरह की बीमारियां हैं। 

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ का नाम एग्जिट कंट्रोल लिस्ट से नहीं हटाए जाने के कारण उनके विदेश जाने में पेंच फंस गया है। इससे उनके स्वास्थ्य के लिए नई समस्या पैदा हो गई है।

पाकिस्‍तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ इलाज के लिए विदेश जाएंगे। डॉक्‍टरों ने उनको इलाज के लिए विदेश जाने की सलाह दी है। माना जा सकता है कि डॉक्‍टरों ने पाकिस्तान के पूर्व पीएम को विदेश जाने की सलाह देकर जीवनदान देने का काम किया है।

डॉक्टर्स ने सलाह दी है कि शरीफ को निगरानी में रखना जरूरी है। उनका कहना है कि बीमार नेता गंभीर स्वास्थ्य जोखिमों से गुजर रहे हैं और इसी कारण उन्हें अस्पताल से छुट्टी नहीं दी जा सकती।

बता दें, नवाज शरीफ की तबीयत बिगड़ने पर उनके बेटे ने पिता को जेल में जहर देने का आरोप लगाया था। नवाज ने ट्वीट कर लिखा था कि, ‘जहर के लक्षण हैं। अगर नवाज शरीफ को कुछ होता है, तो आप जानते हो इसके लिए जिम्मेदार कौन है।’ 

इमरान खान सरकार से सवाल करते हुए कहा, 'मेरे पिता की हालत लगातार खराब हो रही थी और प्लेटलेट्स 16,000 से गिरकर 2,000 पहुंच गई थी, इसके बावजूद मेरे पिता को अस्पताल में भर्ती नहीं कराया गया। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री को इसका जवाब देना होगा।

एनएबी ने मुख्य रूप से मरियम पर चीनी मिलों के शेयरों की बिक्री/खरीद की आड़ में मनी लॉ्ड्रिरंग में शामिल होने का आरोप लगाया है। इसने कहा कि वह 2008 में मिलों की सबसे बड़ी शेयरधारक बन गईं, जिनके पास 1.2 करोड़ से अधिक के शेयर थे।

आज कारगिल विजय दिवस के मौके पर पूरे देश में शहीदों को श्रद्धांजलि दी जा रही दै। कारगिल विजय दिवस हर साल 26 जुलाई को में मनाया जाता है।  कारगिल युद्ध करीब 2 महीने तक चला था।