NDRF

तूफानों के रिकॉर्ड 1890 से जमा किए जा रहे हैं। 130 वर्षों में केवल चार बार (1893, 1926, 1930, 1976) में 10 बार चक्रवाती तूफान आए। सबसे ज्यादा 66 तूफान 70 के दशक में आए। 1967 के बाद सबसे ज्यादा 9 तूफान पिछले साल आए थे।

एनडीआरएफ की टीम ने जहां नदी में और बाढ़ में फंसे लोगों को बाहर निकाला वहीँ एयरफोर्स के जवानों ने हेलीकाप्टर से आसमान में उड़ते हुए राप्ती नदी के बाढ़ में फंसे और मैरुंड इलाके से एयरलिफ्ट किया

वर्तमान एनडीआरएफ एकेडमी नागपुर में सिविल लाइंस इलाके में स्थित है। यहां एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुये प्रधान ने कहा, ‘‘सुरदेवी में 153 एकड़ भूमि में एनडीआरएफ एकेडमी का नया परिसर बनेगा। 

कुंभ नगर में संगम में शनिवार को एक बड़ा हादसा होते होते टल गया। संगम में स्नान के बाद स्नानार्थियों को वापस लेकर लौट रही नाव की दूसरी नाव से टक्कर होने पर पलट गई। जिसमें नाव में सवाल आठ श्रद्धालु संगम में डूबने लगे। यह देख दोनो ही नाव के चालक भाग निकले।

बताया जा रहा है कि यह बिल्डिंग उल्लावास निवासी दयाराम की है। बिल्डिंग में बुधवार को चौथी मंजिल पर लैंटर डाला गया था। उसी के बाद बिल्डिंग गिरी है।

कानपुर : जिले का 2017 हादसों और अपराधों से भरा रहा। सत्ता बदली मगर अपराधों पर अंकुश नहीं लग सका। साल की शुरुआत में सपा नेता महताब आलम की पांच मंजिला निर्माणाधीन इमारत गिर जाने से 10 मजदूरों की मौत हो गई थी और एक दर्जन से ज्यादा मजदूर घायल हो गए थे। इस हादसे …

गोरखनाथ थानाक्षेत्र के नयागांव रामपुर इलाके में आज 11:30 बजे रोहिणी ( रोहिन ) नदी में एक लकड़ी की नाव पलट गई। नाव में सवार 7 युवति

गोपालगंज : बिहार के गोपालगंज जिले के बाढ़ प्रभावित बरौली प्रखंड क्षेत्र में शुक्रवार को एक गर्भवती महिला के लिए राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ ) के जवान किसी मसीहा से कम साबित नहीं हुए। प्रसव-पीड़ा से तड़प रही महिला ने एनडीआरएफ की नाव पर ही एक बच्ची को जन्म दिया। गोपालगंज के एक अधिकारी ने …

देश के पूर्वोत्तर राज्य त्रिपुरा में बारी बारिश ने जनजीवन को बुरी तरह प्रभावित किया है। बाढ़ में घर डूबने से 2,000 से ज्यादा परिवार विस्थापित हो गए हैं।