newstrack

शाहिद कपूर और कियारा आडवाणी स्टारर "कबीर सिंह" तेलुगु ब्लॉकबस्टर फिल्म "अर्जुन रेड्डी" का हिंदी रीमेक है जो कि आज सिनेमाघरों में दस्तक दे चुकी है|

दीपिका पादुकोण इस समय अपने करियर में काफी कुछ कर रही हैं। कुछ समय पहले दीपिका फिल्म 83 में पति रणवीर सिंह के साथ शूटिंग करने पहुंची थीं। तो वहीं अब वे न्यूयॉर्क और मुंबई के अलग-अलग इवेंट्स का हिस्सा बन रही हैं। बुधवार शाम दीपिका पादुकोण मुंबई में हुए ग्राजिया मिलेनियल अवॉर्ड्स 2019 में पहुंचीं।

डीएम अमृत त्रिपाठी ने newstrack.com को बताया कि बच्चे का शव गोद मे ले जाने के मामले मे गंभीरता से जांच कराई गई। जिसमे घटना सही पाई गई। शव को घर तक पहुचाने के लिए शव वाहन नही दिया गया था।

पूरे देश में भाजपा को मिले प्रचंड बहुमत का असर रायबरेली सीट पर नहीं पड़ा यहाँ प्रियंका गांधी का जादू चल गया। प्रियंका गांधी ने अपनी मां सोनिया गांधी के संसदीय क्षेत्र रायबरेली में जमकर मेहनत की और इसका परिणाम ये रहा कि सोनिया को यहाँ से जीत मिली।

इस बार सनी देओल, उर्मिला मातोंडकर, शत्रुघ्न सिन्हा, प्रकाश राज, हेमा मालिनी, जया प्रदा जैसे कई बॉलीवुड सितारे भी चुनावी मैदान में हैं। सलमान खान ने ट्वीट कर मोदी को निर्णायक विजय के लिए बधाई दी। उन्होंने लिखा, ‘‘ माननीय प्रधानमंत्री को निर्णायक विजय के लिए शुभकामनाएं। हम मजबूत भारत के निर्माण के लिए आपके साथ खड़े हैं।’’

पहले की तरह इस बार के लोकसभा चुनाव में भी उन्होंने इसे साबित कर दिखाया और पूरे देश में मोदी सुनामी का असर दिखा। फिर उनके पास अमित शाह जैसा सिपाहसालार भी है जो संगठन क्षमता के काफी कुशल खिलाड़ी हैं और सेना की व्यूहरचना इतनी बारीकी से करते हैं जिसमें विरोधी घुस ही नहीं पाते और सेना विरोधियों को ढेर करने में कामयाब हो जाती है।

मैं ‘चौकीदार’ शब्द को अपने नाम से हटाता हूं, लेकिन यह आतंरिक तौर पर मेरा हिस्सा रहेगा। आप सब से भी ऐसा करने की अपील करता हूं।’

कानपुर में बीजेपी कार्यकर्ता पूरे शहर में ढोल नगाड़ों के साथ जश्न मना रहे है । चारो तरफ हर-हर मोदी घर-घर मोदी के नारे लग रहे है। कार्यकर्ता घर-घर जाकर मिठाई खिला रहे है। चारो तरफ आतिशबाजी का माहौल है सभी के हाथों में बीजेपी का झंडा और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के पोस्टर लेकर घूम रहे है।

अभी कुल 35 या 37 राउंड चलना है, आप सोच सकते हैं, जीत गोरखपुर की कितनी ऐतिहासिक होगी, जो मैं पहले दिन से आप लोगों से कह रहा था, क्योंकि मैं घूमता था, पूरे देश की जीत हम पहले से कह रहे थे, ऐतिहासिक रूप में मोदी जी सरकार बनाने जा रहे हैं, लोगों को यहां पर लगता था ।

केरल की वायनाड लोकसभा सीट 2008 में अस्तित्व में आई थी। तब से अब तक इस सीट पर कांग्रेस का ही कब्जा रहा है। इस सीट के तहत 7 विधानसभा सीटें आती हैं। ये सातों विधानसभा सीटें मनंथावाड़ी, सुल्तानबथेरी, कल्पेट्टा और कोझीकोड जिलों में पड़ती हैं।