oath ceremony

भव्य शपथ ग्रहण समारोह पिछले कुछ समय से ट्रेंड में हैं। चुनावी जीत के बाद राजनीतिक शक्ति- प्रभाव के प्रदर्शन के लिए शपथ समारोह का आयोजन बड़े स्तर पर होता है।

आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल दिल्ली के तीसरी बार मुख्यमंत्री बन गये हैं। रामलीला मैदान में उनके साथ उनके मंत्री भी मौजूद रहे।

केजरीवाल उन सभी छह मंत्रियों को कैबिनेट में रखा है, जिन्होंने पिछले कार्यकाल में सरकार के साथ काम किया। इसमें मनीष सिसोदिया समेत कई नाम शामिल है।

रामलीला मैदान में 16 फरवरी को होने जा रहे मुख्यमंत्री पद के शपथ ग्रहण समारोह के लिए अरविंद केजरीवाल की तरफ से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को भी न्यौता दिया गया है। आम आदमी पार्टी दिल्ली चुनाव में बड़ी जाती हासिल की है। यहां की 70 में से 62 सीटों पर जीतकर आम आदमी पार्टी तीसरी बार सरकार बनाने जा रही है।

दिल्ली विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी  ने एक बार फिर शानदार जीत दर्ज की है। लेकिन फिर भी इसके बाद अरविंद केजरीवाल के शपथ ग्रहण समारोह में शिक्षकों को बुलाए जाने का मामला गर्म हो रहा है।

तीसरी बार जबर्दस्त जीत के बाद आम आदमी पार्टी के प्रमुख अरविंद केजरीवाल के मुख्यमंत्री पद की शपथ ग्रहण समारोह की तारीख का ऐलान हो गया है।

झारखंड राज्य को उसका 11वां मुख्यमंत्री मिल गया है। गठबंधन के नेता हेमंत सोरेन (Hemant Soren) ने दूसरी बार राज्य के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। इस दौरान विपक्षी दल के कई दिग्गज नेता मौके पर मौजूद हैं

नरेंद्र मोदी आज प्रधानमंत्री पद की शपथ लेंगे। नरेंद्र मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में हजारों मेहमान शामिल होंगे। राष्ट्रपति भवन के प्रांगण में शाम 7 बजे मोदी प्रधानमंत्री पद की शपथ लेंगे।

केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि जिसकी सज़ा 50 फीसदी पूरी हो गई है ऐसे बंदियों को रिहा करने का निर्णय हुआ है। इस संबंध में गृह मंत्रालय ने एडवाइजरी जारी कर दी है। श्री सिंह सेंट्रल बार एसोसिएशन के शपथ ग्रहण समारोह को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने लखनऊ के चौतरफा विकास का दावा करते हुए सरकार की उपलब्धियों को गिनाया।