obesity

दुनिया भर में छाई कोरोना महामारी के बीच यूरोप की नेशनल हेल्थ सर्विस का कहना है कि मोटे लोगों को कोरोना वायरस से ज्यादा सावधान रहने की जरूरत है। नेशनल हेल्थ सर्विस का कहना है कि यूरोप में कोरोना से जितने भी लोग बीमार हुए हैं उनमें से दो तिहाई लोग मोटे ही हैं।

आजकल हर व्यक्ति अपने आप को फिट रखना चाहता है। वजन का अधिक होना शरीर में कई बीमारियों को जन्म देता है। पर आपको यह जानना जरूरी है कि आप मोटे हैं या ओवरवेट। मोटापा और ओवरवेट दोनों अलग-अलग है। इन दोनों में देखा जाए तो बहुत छोटा और गहरा अंतर है। यह भी पढ़ें …

सुबह की सैर, साइक्लिंग, योग, सीढिय़ां चढऩा व उतरना भी रोजाना नियमपूर्वक करने से वजन कम होता है। साथ ही, नियमित रूप से तरह-तरह के खेल भी खेलते रहें। इसके अलावा आप और कई तरीके अपना सकते हैं, जिनकी मदद से आपको वजन कम करने का मौका मिलेगा।

बिजी शेड्यूल होने की वजह से हम अक्सर जंक फूड खाना पसंद करते हैं। जंक फूड हमारा समय जरूर बचाता है लेकिन इसकी वजह से हम कई तरह की बीमारियों से दोस्ती कर लेते हैं, जिनकी संगत में रहना हमे बाद में भारी पड़ता है।

दरअसल लगातार शरीर का बढ़ता वजन बॉडी में थाईरॉयड, पीसीओडी और डायबिटीज जैसी भयंकर बीमारियों का कारण बन सकता है। मोटापा न सिर्फ आपके लुक को बिगाड़ता है, बल्कि ये ब्लड डिसॉर्डर और हार्ट डिसीज (हृदय रोग) का कारण भी बनता है।

इस इत्र में ऐसे रसायन शामिल किए गए हैं, जो एक हार्मोन डोरफ़ेनज़ ट्रिगर का काम करते हैं, जिसकी वजह से भूख कम लगती है। रिसर्च के दौरान 28 दिन तक इस इत्र का उपयोग करने वाली 75 प्रतिशत महिलाओं ने स्वीकार किया कि असमय भूख लगना कम हो गई है।

मिस्र : वैसे तो पूरी दुनिया में लोग मोटापे की समस्या से जूझ रहे हैं मगर मिस्र में यह समस्या कुछ ज्यादा ही गंभीर हो गयी है। अभी तक दुनिया के किसी भी देश के राष्ट्राध्यक्ष ने मोटापे की समस्या को लेकर कभी कुछ नहीं कहा मगर मिस्र के राष्ट्रपति अब्दुल फतेह अल-सीसी इस मामले …

लखनऊ: राज्य के करीब 125 लैप्रोस्कोपिक सर्जनों को बैरिएटिक सर्जरी का एक सजीव सत्र देखने का सुुअवसर आलमबाग स्थित अजंता हाॅस्पिटल में शनिवार को हुई एक कार्यशाला में प्राप्त हुआ। अहमदाबाद से आए बैरिएटिक सर्जरी के पुरोधा डॉ महेन्द्र नरवरिया और लखनऊ के बैरिएटिक सर्जन डॉ राहुल सिंह ने वर्कशॉप के दौरान मोटापे से ग्रसित चार …

नई दिल्ली : शरीर की बढ़ती चर्बी और हृदय रोगों के मामलों में बढ़ोतरी देखी जा रही है। इसका कारण खानपान में हेल्दी चीजों का न लेना है। ऐसे में लौकी का रस या जूस शरीर को कई तरह से फायदा पहुंचाता है। विशेषज्ञों के मुताबिक यह शरीर में पानी की कमी पूरी करने के …

देश में लगभग 1.44 करोड़ बच्चे अधिक वजन वाले हैं। मोटापा कई स्वास्थ्य समस्याओं का प्रमुख कारण है और विश्व स्तर पर लगभग दो अरब बच्चे और वयस्क इस तरह की समस्याओं से पीड़ित हैं।