onion-prices

भारत द्वारा प्याज के निर्यात (Export) पर रोक लगाने से पड़ोसी मुल्क बांग्लादेश (Bangladesh) बेहद परेशान है। इसे लेकर पड़ोसी मुल्क ने गहरी चिंता भी जताई है।

लॉकडाउन के बीच आम लोगों को एक बड़ी राहत मिली है। दरअसल, दो महीनों तक सोने के भाव पर बिक रहा प्याज अब सस्ता हो चुका है। बता दें कि दो महीने पहले एक किलो प्याज के दाम 100 रुपये तक चले गए थे, लेकिन अब उसकी किमत में भारी गिरावट हुई है।

दिन प्रतिदिन बढ़ती मंहगाई ने लोगों का बजट बिगाड़ दिया है। लोगों ने प्याज की बढ़ती कीमत से परेशान उसे खाना छोड़ दिया है तो अब खाने के तेल के दामों में भी वृद्धि हो रही है। इससे महंगाई भी जोर पकड़ती जा रही है। जो कीचेन का जायका बिगाड़ने के लिए काफी है।

तृणमूल कांग्रेस के सुदीप बंदोपाध्याय ने लोकसभा में देश में प्याज की बढ़ती कीमतों का मुद्दा उठाया और केंद्र सरकार को सुझाव दिया कि वह कालाबाजारियों पर लगाम लगाने के लिए राज्यों को परामर्श जारी करें। शून्यकाल में इस मुद्दे को उठाते हुए बंदोपाध्याय ने केंद्र सरकार पर प्याज की कीमतों पर लगाम कसने में विफल रहने का आरोप लगाया।