opposition meeting

देश में कोरोना संकट के बीच शुक्रवार को कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की अध्यक्षता में विपक्षी दलों की बैठक हुई। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये हुई इस बैठक में सोनिया गांधी ने केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा।

भारत में कोरोना वायरस का खतरा दिनों-दिन बढ़ता ही जा रहा हैं। मंगलवार को संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 1 लाख के पार पहुंच गया। संकट कितना बड़ा है, इसे इस बात से भी समझा जा सकता है कि इस मुद्दें पर विपक्ष के कई बड़े नेता इस समय केंद्र सरकार के फैसले के साथ खड़े हैं।

दिल्ली में सोमवार को सीएए को लेकर विपक्षी दलों की बैठक हुई। इस बैठक को विपक्षी दलों की एक जुटता के तौर पर देखा जा रहा था।

करारी हार के बाद देश की सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस बवंडर उठा है। राहुल गांधी कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने पर अड़े हुए हैं। इस बीच कांग्रेस ने विपक्षी दलों की बैठक बुलाई है।

विपक्ष की बैठक में राष्ट्रपति उम्मीदवार के लिए साझा उम्मीदवार खड़ा करने पर निर्णायक चर्चा होनी है।लेकिन बंगाल जैसे राज्यों में विपक्षी एकता खतरे में हैं। कांग्रेस व वाम पार्टियां ममता सरकार के खिलाफ सड़कों पर हैं। उत्तर प्रदेश में भी सपा व बसपा के तार जोड़े रख पाना टेढ़ा काम है।