outdoor

भारत की जनसंख्या विश्व में दूसरे नम्बर पर है। एक तरफ भारत मे लोग शारीरिक संबंधों पर खुलकर बात करने तक से लोग कतराते हैं, लेकिन अभी भी लोग खुले में शारीरिक संबंध बनाने को तैयार रहते हैं।

आजकल के बच्चे बाहर जाकर कम खेलना कूदना पसंद करते हैं। बच्चे आउटडोर खेलने से ज्यादा टीवी और मोबाइल में समय बिताते हैं। कई बच्चे तो पूरे दिन टीवी देखते हैं। बच्चों की यह लत उन्हें रीढ़ की हड्डी, गर्दन, मानसिक रोग, डिप्रेशन जैसी बिमारियों का शिकार बनाती हैं। ऐसे में पेरेंट्स की यह जिम्मेदारी हैं कि वो बच्चों की इस लत को छुड़ाएं। इसके लिए कुछ हैं जिनकी मदद से बच्चों की इस आदत को बदल सकते हैं।