p.chidambaram

उन्होंने आज ट्वीट करते हुए लिखा-दिल्ली पुलिस ने दिल्ली दंगों के मामले में एक पूरक आरोप पत्र में सीताराम येचुरी और कई अन्य विद्वानों और कार्यकर्ताओं का नाम लेते हुए आपराधिक न्याय प्रणाली का मजाक उड़ाया है।

पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम (P Chidambaram) ने मांग को प्रोत्साहित करने और अर्थव्यवस्था को पुनर्जीवित करने में मदद करने के लिए  सरकार को कुछ टिप्स दिए हैं।

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने का मामला एक बार फिर से गरमाने लगा है। यहां की सभी बड़ी राजनीतिक पार्टियों ने अनुच्छेद 370 की बहाली के लिए साथ आने का निर्णय किया है।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने शनिवार को मोदी सरकार पर तीखा हमला बोला। उन्होंने कहा कि जन सुरक्षा कानून (PSA) के तहत पीडीपी नेता महबूबा मुफ्ती की हिरासत को बढ़ाया जाना कानून का दुरूपयोग।

कांग्रेस नेता पी. चिदंबरम ने आज राजस्थान में चल रहे सियासी संकट को लेकर ईडी पर तंज कसा है। साथ ही ईडी को ‘चतुर’ की संज्ञा दी है। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा है- यह चतुर ईडी 2007 के एक मामले में मनी लॉन्ड्रिंग घोटाला ढूंढ लेती है।

पी. चिदंबरम ने कहा कि गलवान घाटी पर चीन ने फिर से अपना दावा ठोका है, क्या एनडीए की सरकार फिर से मांग करेगी कि यथास्थिति बहाल होनी चाहिए। क्या सरकार यथास्थिति बहाल करने में सफल होगी।

लॉकडाउन को लेकर पीएम नरेंद्र मोदी की तरफ से 20 लाख करोड़ का आर्थिक पैकेज का एलान करने के बाद से इस पर सियासत शुरू हो गई है। रविवार को निर्मला सीतारमण ने स्वास्थ्य, शिक्षा, मनरेगा समेत कई अन्य बिन्दुओं पर सरकार की ओर से खर्च किये जा रहे पैसे का ब्यौरा दिया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 20 लाख करोड़ रुपये के पैकेज की घोषणा के बाद बुधवार को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने सेक्टर आधारित पैकेज के बारे में जानकारी। पहले से ही मोदी सरकार हमलावर कांग्रेस ने इस पर निराशा जाहिर की है।

पूर्व वित्त मंत्री ने पहले ट्वीट में लिखा, "कर्ज़माफी या बट्टेखाते में डाले जाने पर बहस अप्रासंगिक है, जो लोग इससे बहुत खुश होंगे, वे हैं नीरव मोदी, मेहुल चौकसी और विजय माल्या। नियम इंसानों ने ही बनाए हैं। अगर कोई नियम बनाया जा सकता है, तो उसे खत्म भी किया जा सकता है।"

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा है कि पीएम मोदी और निर्मला सीतारमण दोनों ही उनके सवालों के जवाब नहीं दे सके हैं। जब से देश भर में लॉकडाउन हुआ है, तब से ही पी चिदंबरम गरीबों के खातों में पैसे ट्रांसफर करने की बात कह रहे हैं।