pakistan army

एक बार फिर से पड़ोसी देश ने सीमा पर सीजफायर का उल्लंघन किया है। पाकिस्तान ने जम्मू-कश्मीर के पुंछ जिले के कस्बा केर्नी सेक्टर में सीजफायर तोड़ा है। बीते कई दिनों से पाक सीजफायर उल्लंघन को अंजाम दे रहा है।

बलूचिस्‍तान लिबरेशन आर्मी ने बलूचिस्तान प्रांत में हुए हमले की जिम्मेदारी ली है। इस हमले में सात पाकिस्तानी सैनिकों की मौत हो गई थी। सैनिकों से उनके कपड़े उतार लिए गए थे और उनके हथियार तक छीन लिए गए थे।

जम्मू-कश्मीर के पूंछ जिले में पाकिस्तानी सेना द्वारा किए गए सीजफायर उल्लंघन के बाद भारतीय जवानों की ओर से की गई जवाबी कार्रवाई में पांच पाकिस्तानी सैनिकों की मौत हो गई, जबकि तीन घायल हैं। 

पाकिस्तान में अ‌र्द्धसैनिक बल द्वारा MQM के एक कार्यकर्ता की बेरहमी से हत्या कर दी गई। पत्नी ने आरोप लगाया है कि चार साल पहले सुरक्षाबल ने उसे अवैध तरीके से हिरासत में ले लिया था।

पाकिस्तान सेना पूंछ में नियंत्रण रेखा से सटे कस्बा और किरनी सेक्टर में भारतीय चौकियों और रिहायशी इलाकों पर गोलीबारी कर रही है। हालांकि भारतीय सेना भी मुंहतोड़ जवाब दे रही है। 

पाकिस्तान के पीएम इमरान खान पूर्व पीएम नवाज शरीफ से बेहद नाराज हैं। वे नवाज शरीफ पर भ्रष्टाचार के आरोप शुरू से ही लगाते रहे हैं। जिसके बाद से राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो (नैब) ने शरीफ के पूर्व निजी सचिव फवाद हसन फवाद, पूर्व संघीय मंत्री एहसान इकबाल, पूर्व विदेश सचिव ऐजाज चौधरी और खुफिया ब्यूरो (आईबी) के पूर्व प्रमुख आफताब सुल्तान के खिलाफ मामले दर्ज करने की स्वीकृति प्रदान कर दी है।

पाकिस्तान में सेना के खिलाफ लोगों के मन में जबरदस्त गुस्सा है। नेता मौलाना फजलुर रहमान ने पाकिस्तानी सेना को चेतावनी दी है कि वह सरकार और पुलिस के मामलों में हस्तक्षेंप करना तत्काल बंद कर दें वरना देश में एकता नहीं रह पाएगी।

बुधवार यानी आज पाकिस्तानी सेना ने लाइन ऑफ कंट्रोल(LOC) पर सीजफायर का उल्लंघन करने के साथ ताबड़तोड़ फायरिंग भी की गई। सूत्रों से सामने आई जानकारी के अनुसार, घाटी के किरनी सेक्टर में जिला-मुख्यालय से कुछ मीटर की दूरी पर लाइन ऑफ कंट्रोल पर 11 बजे के आस-पास भीषण गोलाबारी हुई। 

पाकिस्तान में हालात बहुत ज्यादा खराब हो गए हैं। अब सिंध प्रांत की पुलिस ने पाकिस्‍तानी सेना के बढ़ते हस्‍तक्षेप के खिलाफ 'विद्रोह' का बिगूल फूंक दिया। इस हालात बाद पाकिस्तान गृह युद्ध की संभावना बढ़ गई है।

पश्तून नेता और पूर्व सेनेटर अफरासियाब खटक ने ‘साउथ एशियन अगेंस्ट टेररिज्म एंड फॉर ह्यूमन राइट्स’ (एसएएटीएच) के पांचवें एनुवल कांफ्रेंस में यहां तक कह दिया कि 'पाकिस्तान की इमरान सरकार ने देश के अंदर अघोषित मार्शल लॉ लागू कर रखा है।