palmistry

बहुत कुछ कहता है हम सब का हाथ। विज्ञान भी मानता है कि आंखों के बाद हाथ और पैरों के पंजों से सबसे ज्यादा ऊर्जा निकलती है। ज्योतिष में भी हाथों की पूरी कुंडली खोलकर रख दी गई है। एक-एक रेखा का विश्लेषण किया गया है।

हस्तरेखा से किसी व्यक्ति के भविष्य को देखा जा सकता है। इस विधा को सीखना आसान है। बस हमें हथेली पर बनने वाली रेखाओं की जानकारी और उभरे हुए पर्वतों के बारे में मालूम होना चाहिए। इस जीवन में सभी लोग कुछ चीजें ऐसी हैं जिनकी आस लगे रखते हैं। जैसे कि व्यक्ति की मूलभूत सुविधाओं का पूरा होना और साथ ही जीवन में मान-सम्मान मिलना।

मनुष्य को अपने वर्तमान से ज्यादा भविष्य की चिंता रहती है। व्यक्ति के मन में अपने आने वाले समय को लेकर सवाल होते हैं, खासतौर से सरकारी नौकरी की तयारी कर रहे लोगों में। ऐसे में आज हम आपके लिए कुछ ऐसे संकेतों की जानकारी लेकर आए हैं जो

भविष्य में हम क्या करेंगे, हमारा जीवन कैसा रहेगा। यह सब हम कुंडली या फिर हाथ की रेखाओं से जानते है।हाथ में रेखाएं जितना स्पष्ट व साफ रहेगी हमारे जीवन में उतना ही संघर्ष कम होगा। हमारे भूत, भविष्य व वर्त्तमान का लेखा जोखा हाथ की रेखा व पर्वतों में है।

कहते हैं किस्मत हमारे हाथ में ही होती है। यह किस्मत हाथ की उन रेखाओं में है जो समय के साथ बदलती रहती हैं। हथेली की रेखाओं को पढ़ कर भविष्य बताने की कला को हस्तरेखा कहते है। हस्तरेखा में उंगलियों, नाखूनों, उंगलियों के निशान, हथेली की त्वचा की बनावट व रंग, आकार, हथे

हार्ट लाइन आपके रिलेशनशिप और आपकी लव लाइफ के बारे में कई गुप्त बातें बताती है। हस्तरेखा विशेषज्ञ के अनुसार लव लाइफ के पहले के बारे में भी जानकारी हासिल की जा सकती है। यह रेखा इंडेक्स फिंगर के नीचे से शुरू होती है

कोई भी मनुष्य अपने भाग्य पर बहुत विश्वास करता है। उसके साथ आगे क्या होने वाला है ये जानने की इच्छा हर किसी में होती है। और हम किसी भी मनुष्य के भूत भविष्य व वर्तमान को उसकी हाथ की रेखाओं से जान सकते हैं। व्यक्‍ति की हथेली में बहुत सी रेखाएं और निशान होते हैं। ये रेखाएं और निशान  बहुत बताते हैं।

लखनऊ: भारतीय ज्योतिष शास्‍त्र में हस्त रेखा का काफी महत्व है। ज्योतिषाचार्य उन्हें देख भविष्य में होने वाली घटनाओं को आसानी से देख लेते हैं। मर्द हो या औरत सभी की हाथ की हथेली में कई तरह की रेखाएं होती हैं। इनमें से कई शुभ-लाभ देने वाली होती हैं तो कुछ भविष्य में होने वाली …

अंगूठे पर चक्र का निशान हो तो वह व्यक्ति बहुत भाग्यशाली कहलाता है। उसका कोई भी काम नहीं रुकता है। उसको सफलता बड़ी जल्दी मिलती है और अपने क्षेत्र का महारथी माना जाता है।अगर किसी की हथेली पर सूर्य रेखा निकलकर गुरु पर्वत की ओर जाती है

जयपुर:हथेली की रेखाओं पर पर्वतों और उसपर निशानों का बेहद महत्व है। इन पर्वतों का उन्नत होना उसके शुभ प्रबावों में वृद्धि करता है। इसके साथ अगर इसपर कुछ शुभ निशान भी हों तो वह सोने पर सुहागा ही कहा जाएगा। अनामिका अंगुली के नीचे के मांसल भाग को सूर्य पर्वत के नाम से जाना …