parliament

मत्स्यपालन, पशुपालन और डेयरी राज्य मंत्री डॉ. संजीव कुमार जिन फार्मों पर अंडे या मुर्गे के आहार को नष्ट किया गया है, उनके मालिकों को मुआवजा देने के लिए निधियों की व्यवस्था की गई है। केंद्रीय नियंत्रण भी स्थापित किया गया था।

किसान आंदोलन से जुड़े नेताओं का कहना है कि प्रधानमंत्री मोदी की संसद में कही गई ये बात गलत है कि सरकार ने तीन कृषि कानूनों को लेकर हर उपबंध पर चर्चा की पेशकश की और अगर इसमें कोई कमी है

पूर्वी लद्दाख में लाइन ऑफ एक्च्यूअल कंट्रोल(LAC) पर बीते कई महीनों से लगातार तनातनी जारी है। इस बीच कई बार भारत और चीन की सेनाओं के बीच खूनी संघर्ष भी हो चुका है।

न्यूजीलैंड में एक सांसद को टाई न पहनने पर सजा सुनाई गई। बात ये  है कि आदिवासी सांसद राविरी वेइटिटि ने संसद में टाई (necktie) पहनने से मना कर दिया। उनके मना करने के बाद उन्हें संसद से बाहर निकाल दिया गया।

कांग्रेस समेत समूचे विपक्ष ने मोदी सरकार को घेरते हुए किसानों को धोखा देने का आरोप लगाया। विपक्ष ने कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग करते हुए कहा कि सरकार आंदोलन को बदनाम करने की साजिश रच रही है।

संसद में गतिरोध के चलते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कमान संभाली हुई है। जिसके चलते पीएम मोदी अपनी सरकार के वरिष्ठ मंत्रियों के साथ मीटिंग कर रहे हैं। बता दें, पीएम मोदी ये मीटिंग संसद भवन में कर रहे हैं।

संसद में राज्यसभा की कार्रवाई शुरु होने जा रही है। इसके पहले राज्यसभा में कांग्रेस के विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद (Ghulam Nabi Azad) ने किसान कानूनों को लेकर सस्पेंशन ऑफ बिजनेस नोटिस जारी किया है।

Nirmala Sitaraman द्वारा संसद में पेश किए गए केंद्रीय Budget 2021-22 पर PM Modi की टिप्पणी

संसद में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को आम बजट पेश करने के दौरान विपक्षियों के विरोध का सामना करना पड़ रहा है। वित्त मंत्री ने बजट पेश करने के दौरान जैसे ही ये कहा कि हमारी सरकार किसानों के कल्याण के प्रतिबद्ध है, बस तुरंत वैसे ही विपक्षी दल के नेता लोकसभा में हंगामा करने लगे।

Budget 2021 LIVE: सीतारमण पेश कर रही बजट, आत्मनिर्भर भारत पैकेज का एलान