pdp

पीडीपी की युवा इकाई की ओर से आयोजित कार्यक्रम के बाद महबूबा मुफ्ती ने कहा कि हम सभी ने अपना जीवन जअया है मगर अब हमें घाटी के युवाओं और उनके बच्चों के बारे में जरूर सोचना होगा। उन्होंने कहा कि घाटी के युवाओं के भविष्य की रक्षा करने के लिए हम किसी भी हद तक जाने के लिए तैयार हैं।

बता दें कि बीते दिनों जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा था हम अनुच्छेद 370 वापस लेकर रहेंगे। जब तक ऐसा नहीं हो जाता, वो कोई भी चुनाव नहीं लड़ेंगी। महबूबा मुफ्ती ने यह भी कहा कि मैं जम्मू-कश्मीर के अलावा दूसरा कोई झंडा हाथ में नहीं लूंगी।

महबूबा का विरोध करने के लिए पीडीपी के दफ्तर पर सैकड़ों की संख्‍या में युवा पहुंचे। युवाओं ने महबूबा मुफ्ती के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और वंदे मातरम के नारे लगाए।

जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला की नजरबंदी हटा दी गई है। पिछले साल 4 अगस्त से वो नजरबंद थे। अब्दुल्ला करीब साढ़े सात महीने से नजरबंद थे।

जम्मू कश्मीर पंचायत उपचुनाव का एलान हो चुका है। मुख्य चुनाव अधिकारी ने बताया कि पहले चरण के चुनाव पांच मार्च को होंगे। वहीं दूसरे, तीसरे, चौथे, पांचवें...

राजनीति में कुछ भी जायज है। सत्ता के लिए धुर-विरोधी पार्टियां समर्थन कर लेती हैं तो वहीं बाद अपनी-अपनी पॉवर और भूमिका को लेकर एक दूसरे से भिड़ भी जाते हैं।

श्रीनगर.  जम्मू-कश्मीर से विशेष राज्य का दर्जा वापस लेने के बाद भारत में अमेरिका के राजदूत केनेथ आई जस्टर समेत 15 देशों के राजनयिक मौजूदा स्थिति का मुआयना करने गुरुवार को श्रीनगर पहुंचे। राजनयिकों का दौरा शुरू होने के बाद विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश ने एक प्रेस वार्ता में कहा, ‘भारत सरकार द्वारा जम्मू-कश्मीर …

जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री और पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती को चश्मे शाही से श्रीनगर में दूसरी जगह शिफ्ट किया गया है। महबूबा मुफ्ती की बेटी इल्तिजा ने ठंड को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री को दूसरी जगह शिफ्ट करने की मांग की थी।

केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद खत्म कर दिया है। सरकार ने इसे हटाने की कई वजहे बताई हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को राष्ट्र को संबोधित करते हुए कहा कि एक राष्ट्र के तौर पर, एक परिवार के तौर पर, आपने, हमने, पूरे देश ने एक ऐतिहासिक फैसला लिया है।