pm modi speech

पीएम मोदी का यह संबोधन ऐसे समय में हो रहा है जब लद्दाख की गलवान घाटी में 15 जून को 20 भारतीय जवानों के शहीद होने के बाद भारत और चीन के बीच तनाव चरम पर है।

चौथी बार के संबोधन जिसमें पीएम मोदी ने देश में लॉकडाउन की अवधि तीन मई तक बढ़ाने का एलान किया, उसे रिकॉर्ड 20.3 करोड़ लोगों ने देखा। दर्शकों की इस संख्या ने मोदी के पिछले संबोधनों के सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए।

मोदी ने अकोला की जनता कि तारीफ करते कहा कि आपने अपना हमेशा आशीर्वाद दिया है लेकिन फिर से एक मजबूत सरकार बनाने के लिए आपके सामने आया हूं। उन्होंने कहा कि यहां की जनता ने दिखा दिया है कि काैनसा गठबंधन आपको आगे लेकर जा सकता है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अब से कुछ देर में देश को संबोधित करेंगे। प्रधानमंत्री ने ट्वीट कर इसकी घोषणा की है। प्रधानमंत्री ने बताया कि इस संदेश को टीवी, रेडियो और सोशल मीडिया के जरिए सुन सकते हैं।

कोलकाता: बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी एक बार फिर विवादों में है। मूर्ती विसर्जन और दुर्गा पूजा में रोक लगाने के बाद अब उन्होंने PM मोदी के स्पीच के टेलीकास्ट पर रोक लगा दी है। मोदी 11 सितंबर को देश की सभी यूनिवर्सिटी और कॉलेजों के स्टूडेंट्स को स्पीच देंगे। इसके लिए यूनिवर्सिटी ग्रांट कमीशन …

भारत के 71वें स्वतंत्रता दिवस पर पीएम नरेंद्र मोदी ने मंगलवार (15 अगस्त) को लाल किले पर राष्ट्र ध्वज फहराया। इस मौके पर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए।

राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि पीएम मोदी के प्रवचनों और बॉडी लैंग्वेज से जो संदेश जाएगा, उससे उन्हीं का ग्राफ नीचे गिरेगा। गहलोत ने यह भी कहा कि उत्तर प्रदेश का चुनाव पीएम मोदी के भविष्य के लिये भी टर्निंग प्वाइंट होगा। ​

समाजवादी पार्टी प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी ने कहा कि पीएम तीन साल बाद भी आगे के वादे कर रहे हैं, पिछले तीन सालों का हिसाब नहीं दे रहे हैं। सपा प्रवक्ता ने कहा कि बीजेपी की केंद्र सरकार ने तीन साल में रत्ती भर भी काम नहीं किया।