PMC Bank

आर्थिक संकट का सामना कर रही कंपनी एचडीआईएल के सैकड़ों डमी लोन को छिपाने के लिए पंजाब ऐंड महाराष्ट्र कोऑपरेटिव बैंक (पीएमसी) के वरिष्ठ अधिकारियों ने बड़ी साजिश रची। अधिकारियों ने डमी लोन को छिपाने के लिए विशेष कोड का इस्तेमाल किया था।

पीएमसी बैंक (पंजाब एवं महाराष्ट्र कोऑपरेटिव बैंक) के एक और ग्राहक का दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गई। बता दें पीएमसी बैंक के इस घोटाले से पीड़ित निवेशकों में 64 वर्षीय कुलदीप कौर विज की मौत सातवीं मौत है।

पीएमसी बैंक के खाता धारकों का एक बार फिर गुस्सा फूटा है, बताया जा रहा है कि महाराष्ट्र में पंजाब एंड महाराष्ट्र को ऑपरेटिव बैंक (पीएमसी) के खाताधारकों ने मुंबई स्थित भारतीय रिजर्व बैंक(आरबीआई) के बाहर विरोध प्रदर्शन किया है।

गुडविन ग्रुप की पहली स्कीम में फिक्स्ड डिपॉजिट पर 16% इंट्रेस्ट की पेशकश की गई थी। दूसरी स्कीम में डिपॉजिट के 1 साल पूरे होने पर गोल्ड ज्वैलरी देने की बात कही गई थी।

काफी समय से घोटाले की वजह से गंभीर वित्तीय मुसीबत का सामना कर रहे PMC बैंक के खाताधारकों की RBI के साथ बैठक खत्म हो गई है।

पंजाब और महाराष्ट्र सहकारी (पीएमसी) बैंक में घोटाले के बाद अब दूसरे बैंकों के ग्राहकों अपने खातों में जमा पैसों को लेकर चिंता सताने लगी है। लोगों को डर सताने लगा है कि अगर दूसरे बैंकों में भी इस तरह के घोटाले होत हैं तो वह अपना पैसा नहीं निकाल पाएंगे।

पंजाब एंड महाराष्ट्र को-ऑपरेटिव बैंक यानी पीएमसी बैंक घोटाला मामले में सुप्रीम कोर्ट ने दायर याचिका पर सुनवाई करने से मना कर दिया है। बड़ी बात तो ये है कि कोर्ट के इस फैसले को पीड़ितो के लिए बहुत बुरा माना जा रहा है।

पंजाब एंड महाराष्ट्र को-ऑपरेटिव (पीएमसी) बैंक पर आरबीआई के कड़े ऐक्शन के बाद खाताधारकों को मुश्किलों का सामना करना पड़ा रहा है। पीएमसी बैंक के एक परेशान खाताधारक की हार्टअटैक से मौत हो गई है। उनका पीएमसी बैंक में लगभग 90 लाख रुपए जमा है।

पीएमसी बैंक घोटले के मुख्य आरोपी और एचडीआईएल के मालिक सारंग व राकेश वधावन की सैकड़ो एकड़ जमीन ईडी (प्रवर्तन निदेशालय) जब्त करने जा रहा है। बता दें कि बैंक घोटाले के मुख्य आरोपी सारंग और राकेश वधावन के पास 2100 एकड़ की जमीन है।

पेटीएम ने इस बैंक के ग्राहकों का बड़ा झटका दिया है। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने पंजाब एंड महाराष्ट्र को-ऑपरेटिव बैंक (पीएमसी बैंक) को पिछली 24 सिंतबर को नाटिस जारी करके लेन-देन पर प्रतिबंध लगा दिया था। रिजर्व बैंक के इस ऐलान के बाद से ही पीएमसी बैंक कोई लोन नही दे सकता है।