political news

फूलन की मौत के बाद से उसे वोट पाने का जरिया बना दिया गया। अब हर साल 25 जुलाई को बड़े आयोजन होते हैं। नेता बड़ी-बड़ी बातें करते हैं। लेकिन कोई उस समाज को नहीं बदलना चाहता जो एक बच्ची को फूलन बनाने में कोई कोताही नहीं बरतता।

भारतीय जनता पार्टी ने बसपा-सपा गठबंधन को लेकर पहले ही कहा था कि यह अवसर परस्त महज चुनावी गठबंधन है। बहन मायावती ने दलितों के नाम पर वोट लेकर दलितों को ही हाशिये पर रखा वो अपने परिवार के सिवा और किसी की कैसे हो सकती हैं?

राष्ट्रीय जनता दल लोकतांत्रिक पार्टी के गठन के बाद गौतम सागर राणा ने कहा, 'मैं और झारखंड के राष्ट्रीय जनता दल के 90 फीसदी कार्यकर्ता व नेता लालू प्रसाद यादव से परेशान हैं। अब राष्ट्रीय जनता दल में लोकतंत्र नहीं बचा है. लिहाजा हमने नई पार्टी बनाई है और झारखंड के अपने लोगों की सेवा करेंगे।'

2014 के लोकसभा चुनाव और फिर 2017 के विधानसभा चुनाव में समाज के अन्य तबकों के साथ-साथ पिछड़ा वर्ग के लोंगो ने भी एकजुट होकर भाजपा के पक्ष में मतदान कर ऐतिहासिक सफलता दिलाई। मौर्य रविवार को स्थानीय विश्वेश्वरैया सभागार में भाजपा पिछडावर्ग मोर्चा द्वारा आयोजित किये गए सम्मान समारोह के कार्यक्रम में मुख्यअतिथि के रूप में मौजूद रहे।

21 जून को पूरी दुनिया में योग दिवस मनाया गया। योग दिवस के मौके पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी एक ट्वीट कर विवादों में फंस गए हैं। राहुल गांधी ने सेना के जवानों और कुत्तों के जरिए योग करते हुए तस्वीरें ट्वीट की हैं। राहुल के इस ट्वीट के बाद बीजेपी ने हमला बोला है।

इस्लामिक स्कालर मुशर्रफ अहमद ने तलाक और इस्लाम विषय पर बड़ी रिसर्च की है। उनके मुताबिक जब किसी पति-पत्नी का झगड़ा बढ़ता दिखाई दे, तो अल्लाह ने कुरान में उनके करीबी रिश्तेदारों और उनका भला चाहने वालों को यह हिदायतें दी है, कि वो आगे बढ़ें और मामले को सुधारने की कोशिश करें।

तमाम लोग भले ही अंतरराष्ट्रीय योग दिवस को महज एक विशिष्ट आयोजन के तौर देख रहे हैं पर सच तो यह है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यकाल में यह आयोजन सबसे ज्यादा फायदा पहुंचाने वाले निर्णायक फैसलों में से एक के तौर पर याद किया जाएगा।

कांग्रेस के नये अध्यक्ष को लेकर चर्चा तेज हो गई है। कई दिग्गज कांग्रेसियों के नामों की चर्चा के बाद अब सूई अशोक गहलोत की ओर मुड़ गई है।

मोदी ने उन सभी दलों के प्रमुखों को 19 जून को बैठक के लिए आमंत्रित किया है जिनका लोकसभा या राज्यसभा में कम से कम एक सदस्य है। इस बैठक में ‘एक राष्ट्र, एक चुनाव’ के विचार, 2022 में आजादी के 75 वर्ष के जश्न, महात्मा गांधी के इस साल 150वें जयंती वर्ष को मनाने समेत कई मामलों पर चर्चा की जाएगी।

ओवैसी ने भारतीय संसद में यह नारा एक प्रतिक्रिया के तौर पर लगाई। उनके शपथ ग्रहण के दौरान लगातार जय श्रीराम और भारत माता की जय के नारे लगाए जा रहे थे।