Post-mortem house

कोरोना वायरस के प्रकोप के बीच आगरा में घोर लापरवाही का मामला सामने आया है। यहां सोमवार को पोस्टमार्टम गृह पर शव बदल गए। न्यू ख्वासपुरा के चांदी कारीगर के शव का अंतिम संस्कार केदार नगर के वृद्ध के परिजनों ने कर दिया।

शव का पोस्टमार्टम करने से पहले सगे संबंधियों से इसकी मंजूरी ली जाती है। और व्यक्ति की मृत्यु के 10 घंटे के अंदर ही शव का पोस्टमार्टम किया जाता है। जब व्यक्ति की मृत्यु हो जाती है तो उसके शव में ऐंठन और विघटन जैसे परिवर्तन होने लगते हैं।