Pragatisheel samajwadi party

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के पदाधिकारियों की बैठक हुई जिसमें पार्टी के अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने बैठक को को संबोधित किया।

असद्द्दुद्दीन ओवैशी की पार्टी से गठबंधन पर शिवपाल बोले कि उनके प्रदेश अध्यक्ष प्रस्ताव लेकर आये थे और हम सभी धर्मनिरपेक्ष दलों के साथ जाने को तैयार हैं । शिवपाल ने ओवैशी को धर्मनिरपेक्ष करार दिया ।

प्रगतिशील समाजवादी पार्टी युवजन सभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित जानी ने आज यहां दावा किया कि आने वाले चुनाव में उत्तर प्रदेश में सपा और प्रसपा एक होकर चुनाव लड़ गई तो भाजपा पूरे प्रदेश से गायब हो जाएगी।

प्रगतिशील समाजवादी पार्टी की राज्य कार्यकारिणी में पेश राजनैतिक प्रस्ताव में पार्टी ने राजनैतिक विकल्प के लिए किसी भी अन्य दल से किसी भी प्रकार के गठबंधन के लिए सभी प्रकार के निर्णय लेने के लिए शिवपाल यादव को अधिकृत किया गया राजनैतिक प्रस्ताव में कहा गया

देश में हो रहे सरकारी निकायों के निजीकरण का विरोध प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के समर्थक कर रहे हैं। प्रसपा के समर्थकों ने निजीकरण के विरोध में जोरदार प्रदर्शन किया जिसको रोकने के लिए पुलिस ने लाठीचार्ज किया।

प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया के नेता शिवपाल सिंह यादव बुधवार की सुबह साइकिल थाम लेंगे। पार्टी ने बेरोजगारी मुददे पर लखनऊ से दिल्‍ली तक साइकिल संदेश यात्रा का ऐलान किया है

कई सालों तक सहकारिता की राजनीति में आगे रहे प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव का कहना है कि उप्र सहकारी ग्राम्य विकास बैंको के प्रस्तावित चुनावों को स्थगित किया जाना चाहिए।

लखनऊ। प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के तत्वावधान में स्वतंत्रता संग्राम सेनानी व समाजवादी चिन्तक मधु लिमये की पुण्यतिथि के अवसर पर “साम्प्रदायिकता के वर्तमान संदर्भ“ विषयक संगोष्ठी का आयोजन किया गया जिसकी अध्यक्षता प्रसपा प्रान्त अध्यक्ष सुंदर लाल लोधी एवं संचालन बौद्धिक सभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष दीपक मिश्र ने की। शिवपाल यादव ने लिमये के …

प्रगतिशील समाज पार्टी लोहिया (प्रसपा) के प्रदेश अध्यक्ष सुंदरलाल लोधी के नेतृत्व में सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने बारिश में भिगते हुए हजरतगंज के जीपीओ पार्क में बढ़ी महंगाई पर प्रदर्शन किया। प्रसपा कार्यकर्ताओं ने राज्यपाल के नाम से सिटी मजिस्ट्रेट को एक ज्ञापन भी सौंपा।

समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने चाचा शिवपाल यादव के बीच लड़ाई अंतिम दौर पर पहुंच गई है। लोकसभा चुनाव के बाद अटकले लगाई जा रही थी कि चाचा भतीजे मिलकर 2022 का विधानसभा चुनाव लड़ेंगे लेकिन इस पर अब विराम लग गया है। समाजवादी पार्टी ने विधानसभा अध्यक्ष के यहां याचिका दायर कर शिवपाल सिंह की सदस्यता रद्द करने की मांग की है।