President Ramnath Kovind

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज शाम 5 बजे लोकसभा में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर हुई चर्चा का जवाब देंगे। संसद के दोनों सदनों में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा आज भी जारी रहेगी।

संसद भवन के केंद्रीय कक्ष में दोनों सदनों की संयुक्त बैठक में अपने अभिभाषण में राष्ट्रपति कोविंद ने लोकसभा चुनाव के सफल आयोजन के लिए चुनाव आयोग, सुरक्षाकर्मियो को बधाई दी।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद सुबह 11 बजे संसद के संयुक्त सत्र को संबोधित करेंगे। इसमें लोकसभा और राज्यसभा के सभी सांसद मौजूद होंगे। राष्ट्रपति अपने संबोधन में मोदी सरकार की नीतियों और एजेंडे को सबके सामने रखेंगे।

कोविंद ने पत्नी सविता के साथ मतदान किया।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर डॉ. भीमराव अंबेडकर की जयंती पर उन्हें श्रद्धांजलि दी। राष्ट्रपति कोविंद ने अम्बेडकर के योगदानों को याद करते हुए लिखा है कि वे राष्ट्र के प्रतीक-पुरुष व संविधान शिल्पी थे।

नजमा अख्तर को जामिया मिलिया इस्लामिया की नई वाइस चांसलर नियुक्त किया गया है। जामिया के 100 साल के इतिहास में ऐसा पहली बार है जब विश्वविद्यालय में पहली बार किसी महिला को वाइस चांसलर बनाया गया है।

आज का दिन देश भर में केंद्रीय रिजर्व पुलिस फोर्स (सीआरपीएफ) के शौर्य दिवस के रूप में मनाया जा रहा है। इस खास मौके पर मंगलवार को राष्ट्रपति राम नाथ कोविद ने सीआरपीएफ शहीद परिवार की सहायता के लिए नया मोबाइल एप 'सीआरपीएफ वीर परिवार' लांच किया।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने पुलवामा हमले के बाद पाकिस्तान के बालाकोट में आतंकवादी ठिकानों पर भारतीय वायुसेना की कार्रवाई के संदर्भ में कहा कि भारत अपनी रक्षा करने के लिए सभी जरूरी कदम उठाएगा।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द ने न्यायमूर्ति पिनाकी चंद्र घोष को शनिवार को लोकपाल प्रमुख के रूप में शपथ दिलाई। उच्चतम न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश न्यायमूर्ति घोष को 19 मार्च को देश के पहले लोकपाल के रूप में नियुक्त किया गया था।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द ने देश को होली की शुभकामनाएं दी हैं. राष्ट्रपति ने ट्वीट कर कहा- 'होली के उमंग भरे त्योहार के अवसर पर देश-विदेश में रहने वाले सभी भारतीयों को मैं बधाई देता हूं. यह त्योहार वसंत ऋतु के उत्सव और परस्पर मेल-मिलाप एवं सौहार्द का अवसर है. मेरी कामना है कि रंगों का यह समागम हमारे परिवारों में और पूरे समाज में सकारात्मक ऊर्जा का संचार करे.’