priyanka gandhi

अयोध्या में इस भूमि पूजन के कार्यक्रम को लेकर लगातार राजनीतिक बयानबाजी भी चल रही है। केंद्र की विपक्ष पार्टी कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा की ओर से बयान जारी किया गया है।

प्रियंका ने आगे लिखा, "बीजेपी सरकार लोकतंत्र की सबसे मजबूत शैली 'बातचीत' से नजरें चुराने के लिए नेताओं की नजरबंदी को अपना हथियार बना रही है।मुफ्ती को नजरबंद रखना आलोकतंत्रिक और असंवैधानिक है।

प्रियंका गांधी ने पत्र में मांग कीं हैं कि जल्द से जल्द अपराधियों को पकड़ कर श्री रामौतार शर्मा जी के परिवार को न्याय दिला जाए। साथ ही साथ रामौतार शर्मा जी के परिवार के लिए आर्थिक मदद की भी प्रदेश सरकार घोषणा करें।

प्रियंका ने पत्र में कहा है कि उन्हे उम्मीद है कि मुख्यमंत्री योगी अपनी संवेदनशीलता का परिचय देते हुए डॉ कफील को न्याय दिलवाने का पूरा प्रयास करेंगे।

प्रियंका ने कहा है कि यूपी में बढ़ते अपराधों से यूपी की जनता परेशान है। इसके साथ ही प्रियंका ने गाजियाबाद के गुमशुदा एक व्यवसायी के मामलें में मुख्यमंत्री योगी से मदद का अनुरोध भी किया है।

मायावती ने कहा कि कांग्रेस की अशोक गहलोत सरकार को सबक सिखाया जाएगा। अपने 6 विधायकों के लिए व्हिप जारी करते हुए मायावती ने कहा कि सभी विधायक कांग्रेस सरकार के खिलाफ वोट करेंगे।

फिरौती मांगने और हत्या करने का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। ताजा मामला गोरखपुर का है। यहां पिपराइच इलाके में रविवार को छठवीं के छात्र की अपहरण के बाद हत्या करने का मामला सामने आया है।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने भाजपा सांसद अनिल बलूनी को चाय पर बुलाया है। दरअसल, प्रियंका सालों से दिल्ली के लोधी एस्टेट बंगले में रह रहीं थीं।

देश में एक तरफ कोरोना संकट खत्म होने का नाम नहीं ले रहा और वहीं दूसरी तरफ राजस्थान में सियासी संकट पर नई नई ख़बरें आ रही हैं।

पत्र में महासचिव श्रीमती प्रियंका गांधी ने लिखा है कि यूपी में कल कोरोना के 2500 केस आए और लगभग सभी महानगरों में कोरोना मामलों की बाढ़ सी आई है। b