priyanka gandhi

कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने रविवार को सोशल मीडिया पर सवाल पूछकर भाजपा और प्रदेश की योगी सरकार को आड़े हाथों लिया है।

कांग्रेस ने अल्पसंख्यक मतों का जुगाड़ करने के लिए पार्टी में कट्टर मुस्लिम छवि वाले नेताओं को आगे किया है। अमरोहा की नौगवां सादात और शाहजहां सदर सीट पर मुस्लिम मतदाताओं की निर्णायक भूमिका है।

भाजपा विधायक सुरेंद्र सिंह ने सोमवार को कांग्रेस नेता राहुल गांधी व प्रियंका गांधी पर करारा प्रहार किया। उन्होंने राहुल व प्रियंका की मानसिकता को हिन्दू विरोधी बताया है।

कांग्रेस प्रदेश अध्‍यक्ष अजय कुमार लल्‍लू और विधानमंडल दल नेता आराधना मिश्रा मोना ने रविवार की शाम पत्रकारवार्ता में कहा कि योगी सरकार को बताना होगा कि आखिर हाथरस में गैंगरेप पीड़िता का शव किसके आदेश से जलाया गया है।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी की तीन दिन के अंदर स्‍वीकार्यता सबसे ज्‍यादा बढ़ी और उन्‍हें लोगों का खुला समर्थन भी हासिल हुआ।

कांग्रेस की उत्‍तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा ने हाथरस पीडिता के परिवार जनों से मुलाकात के बाद अपनी ओर से योगी सरकार के सामने पांच सवाल रखे हैं

हाथरस कांड ने योगी सरकार पर जातिवादी, असंवेदनशीलता, धार्मिक परंपराओं की परवाह नहीं करने वाली तानाशाह सरकार का तमगा लगा दिया है।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी और उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा के साथ कांग्रेस के तीन सांसदों को हाथरस जाने की छूट दी गई है। नोएडा के डीएनडी बार्डर से कांग्रेस नेताओं की गाड़ियों को जब बैरिकेड खोलकर आगे निकाला गया उसी दौरान कई कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने भी अपनी गाड़ी आगे बढ़ा दी।

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी ने यूपी सरकार और उसके किलेबंदी को ध्वस्त कर दिया है। लोकतंत्र के राजनीतिक रखवाले के तौर पर दोनों नेताओं ने हाथरस जाने के अधिकार को लेकर लगातार संघर्ष किया।

मीडिया से बातचीत में पीड़िता की भाभी ने बताया ‘कल यहां कोई एसआईटी की टीम नहीं आई थी। परसों पूछताछ हुई थी। डीएम साहब बोलते थे कि तुम्हारी बेटी अगर कोरोना से मर जाती तो क्या कर लेते।