pulwama

जम्मू कश्मीर में आतंकियों ने अपनी नापाक साजिशों को अंजाम देते हुए रविवार को केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) पर हमला कर दिया। ये हमला तब हुआ जब सीआरपीएफ का एक दल पुलवामा क्षेत्र में गस्त पर निकला था।

पुलवामा के बांदजू इलाके में आतंकियों के छिपे होने की सूचना के बाद सुरक्षाबल ने क्षेत्र को घेर लिया। दोनों तरफ से हुई गोलाबारी में दो आतंकी मारे गए।

दहशतगर्द जम्मू कश्मीर के कई इलाकों में छिप कर नापाक मंसूबों को अंजाम दे रहे हैं, वहीं भारतीय सुरक्षाबल इनकी तलाश में हैं।

जम्मू-कश्मीर के लोगों के लिए राहत की खबर है। यहां सेना की तरफ से आतंकियों के खिलाफ बीते कुछ दिनों से चलाया जा रहा सर्च ऑपरेशन आज समाप्त हो गया है।

ताजा खबर मिली है कि पुलवामा जिले के कंगन गांव में आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ शुरु हो गई है। मिली जानकारी के मुताबिक, सेना ने इस मुठभेड़ में आतंकी संगठन जैश-ए - मोहम्मद के टॉप कमांडर सहित 3 आतंकियों को मार गिराया है।

सुरक्षा एजेंसियों को बड़ी कामयाबी मिली है। जानकारी के मुताबिक कार के मालिक की पहचान कर ली गई है। यह कार हिदायतुल्लाह नाम के शख्स की है, जो शोपियां का रहने वाला है। हिदायतुल्लाह 2019 से हिज्बुल मुजाहिद्दीन का आतंकी है।

जम्मू कश्मीर में सुरक्षा बलों की मुस्तैदी से एक बड़े आतंकी हमले को टाल दिया गया। आतंकियों ने पुलवाला इलाके में एक सेंट्रो कार में 40 किलो आईईडी छिपा रखी थी। जिसे सुरक्षाबल के जवानों ने समय रहते खोज निकाला और विस्फोटक सामग्री को एक सुरक्षित स्थान पर ले जाकर निष्क्रिय कर दिया।

जम्मू-कश्मीर में पुलावाम जैसे बड़े हमले की साजिश को सुरक्षाबलों ने नाकाम कर दिया है। एक बार फिर सुरक्षाबलों पर कार में आईईडी भरकर हमले की बड़ी साजिश रची गई थी।

J-K: पुलवामा में आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़, फायरिंग जारी