pv sindhu

पुलेला गोपीचंद हालांकि अपनी भावनाएं नहीं दिखाते, लेकिन कोच ने उस दर्द को साझा किया जो उन्हें साइना नेहवाल के उनकी एकेडमी छोड़कर प्रकाश पादुकोण की अकादमी...

पिछले कुछ टूर्नामेंटों में पहले दौर से बाहर हुई सिंधू ने 36 मिनट के भीतर दुनिया की 19वें नंबर की खिलाड़ी कोरिया की किम गा यून को 21-15, 21-16 से हराकर महिला सिंगल्स के दूसरे दौर में जगह बना लिया है।

नई दिल्ली: ये सुनकर आपकी हंसी रूकेगी नहीं, लेकिन आप ये खबर जरूर पढ़ें। पूरा मामला यह है कि क‍ि एक 70 साल के बुजुर्ग 24 साल की लड़की से शादी करना चाहते हैं। यह भी पढ़ें.  झुमका गिरा रे…. सुलझेगी कड़ी या बन जायेगी पहेली? इसके ल‍िए वह कलेक्ट्रेट कार्यालय में याच‍िका लेकर भी पहुंच …

खेल मंत्रालय ने 9 एथलिट्स को पद्म सम्मान (पद्म विभूषण, पद्म भूषण, पद्म श्री ) देने की सिफारिश की है। इसमें सभी नाम देश के बेटियों के हैं जिन्होंने खेलों में भारत का नाम ऊंचा किया है।

रियो ओलंपिक की रजत पदकधारी सिंधू को एकतरफा मुकाबले में दुनिया की तीसरे नंबर की जापानी खिलाड़ी ओकुहारा से 7-21 11-21 से हार का सामना करना पड़ा।

चौथी वरीयता प्राप्त सिंधू ने महिला एकल के एकतरफा मुकाबले में इंडोनेशिया की अपनी प्रतिद्वंद्वी को केवल 27 मिनट में 21-9, 21-7 से पराजित किया।

सिंधू आल इंग्लैंड चैंपियनशिप के पहले दौर में हार गयी थी जबकि मलेशिया ओपन में वह दूसरे दौर से आगे नहीं बढ़ पायी। इन दोनों टूर्नामेंट में उन्हें कोरिया की सुंग जी ह्यून ने हराया था। वह इंडिया ओपन के सेमीफाइनल में पहुंची लेकिन चीन की ही बिंगजियाओ से हार गयी थी।

भारत की स्टार शटलर पीवी सिंधु ने रविवार को जापान की नोजोमी ओकुहारा को हराते हुए चीन में वर्ल्ड टूर फाइनल्स ख़िताब अपने नाम कर लिया। सिंधु का ये इस साल का पहला, जबकि उनके करियर का 14वां खिताब है।

टोक्यो: भारत की अग्रणी महिला बैडमिंटन खिलाड़ी पी.वी. सिंधु को जापान ओपन टूर्नामेंट में गुरुवार को उलटफेर का शिकार होकर बाहर होना पड़ा। महिला एकल वर्ग के दूसरे दौर में वर्ल्ड नंबर-3 सिंधु को चीन की वर्ल्ड नम्बर-14 गाओ फांगजी ने मात दी। फांगजी ने सिंधु को 55 मिनट तक चले मुकाबले में सीधे गेमों …