rahul gandhi

हरियाणा के महेंद्रगढ़ में रैली को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने पीएम नरेंद्र मोदी पर जमकर निशाना साधा। राहुल ने कहा कि मोदी ने नोटबंदी कर किसानों और मजदूरों की जेब से पैसा निकालने का काम किया है।

महाराष्ट्र और हरियाणा में विधानसभा चुनाव का प्रचार अब अपने आखिरी दौर में पहुंच चुका है। शनिवार को चुनाव प्रचार थम जाएगा, लेकिन उससे पहले शुक्रवार को राजनीतिक पार्टियों के दिग्गज मोर्चा संभालेंगे।

चुनावी माहौल में बहुत जनता के बीच अनेक रंग देखने को मिलते हैं, नेताओं और पार्टियों की तरफ से वोटरों को लुभाने के लिए हर संभव प्रयास किए जाते हैं और प्रचार के नए-नए तरीके अपनाए जाते हैं। इसी बीच बड़ी खबर आ रही है कि कांग्रेस ने जिला और शहर अध्यक्षों की सूची जारी की है, आईये

महाराष्ट्र और हरियाणा में 21 अक्टूबर को मतदान होना है। इससे पहले सभी राजनीतिक पार्टियों ने जीत के लिए पूरा जोर लगा दिया है। पार्टियों के बड़े नेता ताबड़तोड़ रैलियां कर रहे हैं। आज यानी मंगलवार को भी पीएम मोदी, अमित शाह और राहुल गांधी समेत बड़े नेता पार्टी के लिए प्रचार करते दिखेंगे।

यहां चुनावी रैली को संबोधित करते हुए PM मोदी ने कहा कि यहां से वो जगह दूर नहीं है, जहां मोरार्जी देसाई को 19 महिने जेल में बंद रखा था। उन्होंने कहा कि हरियाणा ने बहुत कुछ सिखाया है। यहां का बदलाव मेरी प्राथमिकता रही है।

अहमदाबाद जिला सहकारी (एडीसी) बैंक से दूसरा मामला जुड़ा हुआ है। नोटबंदी के समय राहुल ने आरोप लगाया था कि एडीसी बैंक में पांच दिन में 750 करोड़ रुपये को बदला गया। इस बैंक के निदेशक अमित शाह हैं।

बताते चलें​ कि सूरत पश्चिम सीट से विधायक पूर्णेश मोदी ने अपनी शिकायत में कहा था कि राहुल गांधी ने पूरे मोदी समुदाय को बदनाम किया है।

कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व ने सोमवार को उत्तर प्रदेश कांग्रेस में बड़ा फेरबदल कर दिया है। प्रदेश अध्यक्ष के पद से राज बब्बर की छुट्टी हो गई है। अब प्रदेश अध्यक्ष की जिम्मेदारी कुशीनगर के विधायक अजय कुमार लल्लू को दी गई है।

कांग्रेस ने पिछले दिनों महाराष्ट्र और हरियाणा विधानसभा चुनाव के लिए स्टार प्रचारकों की लिस्ट जारी की थी। इस लिस्ट में सोनिया गांधी, महमोहन सिंह और प्रियंका गांधी के साथ राहुल गांधी का भी नाम था।

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के ऐलान के बाद कांग्रेस में टिकट बंटवारे पर घमासान मचा हुआ है। कांग्रेस के बड़े नेता और पूर्व मुंबई अध्यक्ष संजय निरुपम ने वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे समेत पार्टी के बड़े नेताओं पर निशाना साधा।