#RahulGandhi

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के खिलाफ कांग्रेस के नेता और सांसद राहुल गांधी के 'डंडा' वाले विवादजनक बयान पर केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने रविवार को तंज कसा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को अपने 49 साल के बेटे को राजनीतिक प्ले स्कूल भेजना चाहिए,

कांग्रेस नेता ने कहा कि मुजफ्फरनगर में उन्होंने मौलाना असद रजा हुसैनी से मुलाकात की। मौलाना असद रजा मुजफ्फरनगर के नामचीन लोगों में से हैं, देश -विदेश में शिक्षा जगत में उनका नाम बड़े अदब से लिया जाता है। वे गरीब व अनाथ बच्चों को मुफ्त में मदरसे में शिक्षा देते हैं।

माहिका शर्मा ने राहुल गांधी और उनके इस फैसले के बारे में बात करते हुए कहा, "पॉलीटिक्स बहुत गंदी चीज है, राहुल गांधी जैसा भावुक इंसान इसी गंदी पॉलीटिक्स का शिकार हो गया। मैं उदास हूँ लेकिन मैं जानती हूँ कि उनकी रगो में गांधी खून है...

कांग्रेस की हार के बाद वस्तुतः राहुल गांधी के इस कदम से ऐसा प्रतीत हो रहा है कि वह कांग्रेस के वर्तमान ढांचे से संतुष्ट नहीं हैं। पार्टी पुनर्जीवित करने के लिए वह आमूल चूल बदलाव चाहते हैं। जिसमें मुख्यतः कांग्रेस शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों में राजस्थान के अशोक गहलोत और मध्य प्रदेश के कमलनाथ का भी इस्तीफा वह चाहते थे। ताकि नये सिरे से जनता में पार्टी का विश्वास जीतने के कदम उठाए जा सकें।

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के वरिष्ठ नेता शिवराज सिंह चौहान ने गुरुवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर फिर से तंज कसा। चौहान ने कहा कि कोई नहीं जानता है कि कांग्रेस का मौजूदा अध्यक्ष कौन है।

विवेक ओबेरॉय ने न्यूज चैनल से इंटरव्यू के दौरान यह बात कही। विवेक ओबेरॉय ने कहा- जो न्याय की बातें करते हैं, शासन अन्याय का करते हैं। पीएम मोदी को रोक नहीं सकते हैं। जब पीएम मोदी जीत का जश्न कल मनाएंगे उसी दिन हमारी फिल्म भी आ रही है। उसका जश्न भी मनाएंगे।

गांधी ने कहा कि मोदी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का ‘‘मजाक’’उड़ाते थे लेकिन पांच वर्षों के बाद अब मोदी जी मनमोहन सिंह का मजाक नहीं उड़ाते। आज देश वादे पूरे नहीं होने पर प्रधानमंत्री का मजाक बना रहा है।

प्रधानमंत्री मोदी  के आगे दुनिया भी सिर झुकाती है। चीन की दादागीरी अब भारत पर नहीं चल पाती। अजहर मसूद को आतंकी मानने पर चीन को विवश होना पड़ा।

देश के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश में सात चरणों में वोटिंग होनी है। राज्य में 3 चरणों में वोटिंग हो चुकी है और अब इस राज्य में 29 अप्रैल, 6 मई, 12 मई और 19 मई को वोटिंग होगी जिसको मद्देनजर रखते हुए राहुल गांधी आज लखीमपुर खीरी, उन्नाव और कानपुर में रैली करेंगे।

राहुल-स्मृति के खिलाफ मैदान मे उतरा ये दिव्यांग, बग्घी पर सवार होकर पहुंचा नामांकन करने, कहा "जो उगाता हूं उसका रेट मैं लगाऊं तब समझूगा मिली आजादी"