rain

जब मानसून के जाने का वक्त आ गया है तब भी ये अपना असर दिखाना कम नहीं कर रहा है। अपने आखिरी दिनों में भी मानसून ने देश के कई इलाकों में अपना प्रभाव कायम कर रखा है। बात करें अगर मध्य भारत के इलाकों की, तो बारिश कम होने का नाम नहीं ले रही है।

भीषण बारिश की वजह से एमपी के दमोह जिले में एक कच्चा मकान ढह गया जिसकी चपेट में 11 लोग आ गए। घटना जनपद के मागंज वार्ड नंबर 6 में रात में हुआ। यह मकान लोको में रेलवे ओवर ब्रिज के नीचे बना हुआ था।

लखनऊ: भारत में मौसमी चक्र करवट ले रहा है। पृथ्वी पर सबसे ज्यादा बारिश वाला चेरापूंजी सूखे जैसे हालात से जूझने लगा है तो राजस्थान के वो इलाके बाढ़ से डूबने लगे हैं जहां कभी मामूली बरसात हुआ करती थी। २०१५ में जहां चेन्नई में भारी बारिश के कारण बाढ़ आ गई थी वहीं इस …

भीषण बारिश के कहर से मध्यप्रदेश के सभी इलाके बेहाल है। मध्य प्रदेश में भीषण बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। मौसम विभाग ने मप्र के 38 जिलों में भीषण बारिश का अलर्ट जारी किया है। इनमें से 18 जिलों में रेड अलर्ट है तो वहीं 20 जिलों में ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है।

उत्तराखंड में भारी बारिश के बाद तबाही का भीषण मंजर दिख रहा है। उत्तराखंड में जगह-जगह भारी बारिश और बादल फटने से बहुत से लोगों की जानें भी जा चुकी है। बता दें कि पिथौरागढ़ जिले के नाचनी में बारिश के कारण 3 मकान क्षतिग्रस्त हो गए हैं।

मायानगरी मुंबई और महाराष्ट्र के कई इलाकों में भीषण बारिश के कारण लोगों को बहुत सी दिक्कतें झेलनी पड़ रही हैं। बारिश की वजह से जनजीवन पूरा अस्त-व्यस्त हो गया। निरन्तर हो रही बारिश की वजह से मुंबई सुर उसके आस-पास के कई निचले इलाकों में पानी भर गया जिसके कारण कुछ लोकल ट्रेनों को रद्द करना पड़ा, कई विमानों के परिचालन में देर हुआ और यातायात की समस्या हुई।

देश के कई इलाकों में बारिश का कहर अभी जारी है। मायानगरी मुंबई की बात करें तो मंगलवार रात में भीषण बारिश हुई। बारिश की वजह से मुंबई के निचले इलाके दरिया बन गए। घरों तक पानी पहुंच गया है तो सड़कें लबालब हो गयी हैं। गांधी मार्केट में दो फीट तक पानी भर गया। सड़कों पर पानी भरने से कई गाड़ियां फंस गईं।

भीषण बारिश की वजह से उत्तराखंड के बहुत से इलाके कहर से जूझ रहें है। यहां मौसम विभाग ने चार जिलों में येलो अलर्ट और ऑरेंज अलर्ट अलर्ट जारी है। मौसम विभाग ने बारिश से बचने की चेतावनी दी है।

आशुतोष सिंह वाराणसी। आधे हिंदुस्तान में आफत की बारिश ने कहर बरपा रखा है। यूपी, बिहार, गुजरात, मध्य प्रदेश सहित दर्जनभर प्रदेशों में बाढ़ से हाहाकार मचा हुआ है। पूर्वांचल भी इससे अछूता नहीं है। पूर्वांचल में भी हालात बिगडऩे लगे हैं। लगातार हो रही बारिश की वजह से नदियां उफान पर हैं। गंगा ने …

शहर की अतिसंवेदनशील बाबूपुरवा कोतवाली तालाब में तब्दील हो चुकी है। बारिश का पानी लाॅकप से लेकर मुंशियाने, मालखाने और इंस्पेक्टर के कमरे तक जा पहुंचा। कोतवाली में मौजूद पुलिसकर्मी जूते मोजे उतारकर कोतवाली के अंदर से पानी बाहर निकालने में जुटे रहे।