rainy season

मानसून का मौसम है तो बारिश कभी भी आएगी ही, शरीर, कपड़ों और जूतों को तो जैसे-तैसे बचा लेते हैं, लेकिन अपने पैरों को बारिश के पानी, नमी और कीचड़ से हर समय बचा पाना लगभग नामुमकिन सा हो जाता है। इस मौसम पैरों का ज्यादा देर तक नमी में और गीला रहना आम बात हो जाती है।

बारिश के मौसम में स्किन इंफेक्शन के अलावा मलेरिया और डेंगू जैसी कई गंभीर बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है। यूपी के कई हिस्सों में भी हल्की व भारी बारिश हो रही है, जिसके बाद यहां भी मलेरिया और डेंगू जैसी बीमारियों का खतरा बढ़ गया है।

प्रदेश में कई स्थानों पर भूस्खलन से कई सड़कें यातायात के लिए बंद हो गई हैं। शिमला, मंडी समेत तमाम इलाकों में शनिवार सुबह से ही बारिश हो रही है।

मानसून ने पूरे भारत को भींगा दिया है हां ये अलग बात है कि इस बार राजस्थान में कम बारिश हुई है या नहीं हुई है कह सकते हैं।  लेकिन उत्तर भारत में बारिश का सिलसिला जारी है। मौसम विभाग के अनुसार 23 जुलाई तक उत्तर भारत के कई राज्यों में भारी बारिश होगी,

बारिश का मौसम बेहद सुहाना और रोमांटिक  होता है, मगर इसके साथ ही यह मौसम कई सारी परेशानियां भी लाता है। इस मौसम में सबसे ज्‍यादा चुनौतीपूर्ण कार्य होता है खाने की चीजों को खराब होने से बचाना। उमस के कारण इस मौसम में हर जगह बैक्‍टीरिया होते हैं।

बारिश का मौसम  आ चुका है देश का अधिकतर हिस्सा बारिश के पानी से सराबोर हो गया है  बारिश में हर कोई सतर्क रहने लगता है। सतर्कता हमे इस दौरान कई बीमारियों से बचाती है।  खासकर प्रेग्नेंसी हर महिला के लिए काफी खास समय होता है।

इस समय बारिश का मौसम है, लेकिन ये मौसम अपने साथ कई बीमारियां भी लेकर आता है। इस मौसम में संक्रमण फ़ैलाने का ज्यादा खतरा होता है और तेजी से फैलता है।

मानसून की शुरूआत हो चुकी है कई युवतियां मानसून का खुलकर लुत्फ लेना पसंद करती हैं, लेकिन बारिश में झूमने और डांस करने से त्वचा  खराब हो सकते हैं।तो ऐसे में तैलीय और पसीने से तरबतर चेहरे व त्वचा पर गंदगी जल्दी जमती है, जिससे मुहांसे हो जाते हैं या लाल दाने पड़ जाते हैं। हालांकि रोजाना अच्छी तरह शरीर और त्वचा की सफाई और सही उत्पादों के इस्तेमाल से इन समस्याओं से दूर रहा जा सकता है।

बारिश का मौसम है। जो लोग बारिश में घूमने का मजा लेना चाहते है। घूमने का मजा लेते हैं लेकिन कुछ लोग ऐसे भी है जो बरसात मे घूमना चाहते तो है लेकिन अपने बच्चों की वजह से कहीं नहीं जा पाते हैं तो वो भी घूमने का मजा ले सकते है। जानते है कैसे लें बच्चों के साथ घूमने का असली मजा...

कपड़ों को कमरे में सुखाने के लिए टांगने से पहले उन्हें बाथरूम में अच्छे से निचोड़ लें, जिससे पानी निकल जाए। कपड़े धोने के लिए वॉशिंग मशीन का यूज करते हैं, तो कपड़ों को दो बार ड्रायर करें।